राज्यपाल ने सरकार को लिखा नाराजगी भरा पत्र

-अंतिम वर्ष के आखिरी सत्र की परीक्षाएं रद्द करने की सिफारिश अनुचित

मुंबई. यूजीसी को स्नातक और स्नातकोत्तर के अंतिम वर्ष के आखिरी सेमेस्टर की परीक्षाएं रद्द करने संबंधी उच्च एवं तकनीकी शिक्षा मंत्री उदय सामंत द्वारा लिखे लिखे गए पत्र पर राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने कड़ी आपत्ति जताई है. उन्होंने इस पर संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को बिना देरी किए अंतिम वर्ष की परीक्षा के संचालन मुद्दे को हल करने के लिए पत्र लिखा है. उन्होंने मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में कहा कि विश्वविद्यालयों द्वारा अंतिम वर्ष की परीक्षाओं का आयोजन नहीं कराना यूजीसी के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन है.

राज्यपाल ने मुख्यमंत्री से उदय सामंत के अनुचित हस्तक्षेप’ के लिए उपयुक्त निर्देश जारी करने के लिए कहा है. उन्होंने कहा कि ‘यूजीसी के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन तो हुआ ही है, साथ ही महाराष्ट्र पब्लिक यूनिवर्सिटी एक्ट, 2016 के प्रासंगिक प्रावधानों’ का भी उल्लंघन किया गया है.

राज्यपाल ने कहा कि किसी भी प्रकार की परीक्षा के बिना छात्रों को डिग्री प्राप्त करने से उनके उच्च अध्ययन, ग्रेडेशन और रोजगार पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा.राज्यपाल ने कहा कि यूजीसी को अंतिम वर्ष की परीक्षा रद्द करने की सिफारिश करने से पहले हमें इस मामले में अवगत नहीं कराया गया.