raj thackeray

  • UP सरकार की कार्यप्रणाली पर कसा तंज

मुंबई. हाथरस में दलित युवती के साथ हुई बलात्कार की घटना व पुलिस प्रशासन द्वारा परिजनों की मर्जी के खिलाफ दाह संस्कार किये जाने को अमानवीय करार देते हुए मनसे सुप्रीमो राज ठाकरे ने सरकार की कार्यप्रणाली पर गंभीर तंज कसते हुए कहा कि सरकार एवं पुलिस प्रशासन अपनी नाकामी छिपाए जाने हेतु तथ्यों को तोड़ मोड़ कर पेश कर रही है. जो नितांत गलत है.

मनसे सुप्रीमो राज ठाकरे ने आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा कि महाराष्ट्र में कोई घटना घटित होने पर मीडिया द्वारा जोरदार उठाई जाती है, बावजूद उत्तर प्रदेश को लेकर मौन क्यों साधा जा रहा है? सरकार लोकतंत्र में लोगों की आवाज को दबा रही है. अमानवीय घटना के बारे में सरकार के विरोध में आवाज व घटनास्थल पर पीड़ित परिवारों से मिलने जाने वाले शीर्ष नेताओं को रोका जा रहा है जो लोकतंत्र के सर्वथा विरुद्ध है.

राज ठाकरे ने कहा कि हाथरस की घटना बेहद पाश्विक, दुर्भाग्यपूर्ण है, जिसका निषेध प्रत्येक देशवासी को आगे बढ़कर करना चाहिए. केंद्र एवं राज्य सरकार को पीड़ित परिजन को न्याय, सुरक्षा सहित अपराधियों को कड़ी सजा दिए जाने का प्रावधान सुनिश्चित किया जाना चाहिए.