Yamuna Authority: Allocated land to 12 companies, Indian company will make metro coach

मुंबई. मुंबई महानगर प्रदेश विकास प्राधिकरण (एमएमआरडीए) ने वडाला-विक्रोली-कासारवडवली-गायमुख (मेट्रो 4 , मेट्रो 4 ए) के लिए रेक निर्माण का ठेका केवल भारतीय कंपनियों को देने का निर्णय किया है. 35.2 किमी इस मार्ग के लिए 234 रेक निर्माण के लिए एमएमआरडीए ने निविदा निकाली है जिसमें  बीईएमएल, बंबार्डियर और  सीआरआरसी जैसी 3 मेट्रो उत्पादक कंपनियों ने  निविदा भरी है. 

चीनी कंपनियों को दिखाया जा रहा बाहर का रास्ता 

भारत की बड़ी परियोजनाओं से चीनी कंपनियों को बाहर का रास्ता दिखाया जा रहा है. इससे पहले एमएमआरडीए ने 10 मोनो रेल कोच के लिए 500 करोड़ की चीनी कंपनी की निविदा को रद्द कर दिया था. भारत सरकार के मेक इन इंडिया योजना को प्रोत्साहन देने के लिए योजनाएं चलाई जा रही हैं. मेट्रो-4, 4ए के 234 रेक के लिए 1865 करोड़ रुपये की निविदा मंगाई गई है. एमएमआरडीए अधिकारी के अनुसार मेट्रो रेक की डिजाइन, निर्माण कमिशनिंग के लिए पात्र कंपनी को निविदा दी जाएगी. 33 महीने में रेक का निर्माण पूरा करना होगा.