BLAST

    काटोल. बुधवार की सुबह 6 बजे डोरली भिंगारे के राधाबाई पुरुषोत्तम टूले के घर में रसोई गैस लिकेज होने से घर में आग लग गई. तेज हवा के चलते आग की लपटों ने आजू-बाजू के घरों को भी अपनी चपेट में ले लिया जिसमें विठाबाई लक्ष्मण टुले, राधाबाई पुरुषोत्तम टुले, नारायण नामदेव सरोदे के घरों में आग लग गई. इस आग में घर में रखे आभूषण तथा नकद रकम जलकर खाक हो गए.

    घटना की जानकारी मिलते ही नागपुर जिप के पूर्व उपाध्यक्ष चंद्रशेखर चिखले घटनास्थल पर पहुंच कर काटोल के तहसीलदार अजय चरडे से संपर्क कर यहां काटोल तथा कलमेश्वर से अग्निशमन वाहन बुलवाया. इसके साथ ही काटोल के नायब तहसीलदार रामकृष्ण जंगले की उपस्थिति में प्रत्येक क्षतिग्रस्त परिवार को 20 किलो चावल और 30 किलो गेहूं वितरित किया गया. साथ ही सरपंच राकेश हेलोंडे ने ग्राम पंचायत डोरली की ओर से 10-10 हजार रुपयों की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की.

    मौके पर पंस काटोल के सभापति धम्मपाल खोबरागड़े, पूर्व पंस. निशिकांत नागमोते, नायब तहसीलदार रामकृष्ण जंगले, उप सरपंच प्रवीण धोटे, अशोक पांडे, राहुल काठोडे, बीडी अंबडारे, विजय झोडे, विष्णु सतपुते, रमेश जीवतोड़े, रवि भिंगारे, बबलू बराडे, सतीश कापसे आदि उपस्थित थे. डोरली भिंगारे गांव में आग की चपेट में आये घरों की हानि होने का पंचनामा राजस्व विभाग द्वारा किया गया.