Representational Pic
Representational Pic

  • दूकान में ही धरा गया व्यापारी

नागपुर. क्राइम ब्रांच के यूनिट 3 ने गोपनीय जानकारी के आधार पर एक ज्वेलर्स की दूकान पर छापा मारा. व्यापारी मोबाइल एप के जरिए टी-20 मैच पर सट्टा लगा रहा था. उसके साथ सट्टा लगाने वाले 6 लोगों को भी पुलिस ने आरोपी बनाया है. पकड़ा गया आरोपी इतवारी निवासी आकाश प्रमोदकुमार बंसल (26) बताया गया. उसके पिता टेलीफोन एक्सचेंज चौक के राजश्री पैलेस में आरकेडी ज्वेलर्स नामक दूकान चलाते है. पिता की तबीयत खराब होने के कारण आकाश दूकान संभाल रहा था. वह खुद कपड़ों का व्यापार करता है.

पुलिस को जानकारी मिली थी कि आकाश अपनी दूकान में बैठकर क्रिकेट सट्टा लगा रहा है. खबर मिलते ही पुलिस ने दूकान में छापा मारा. आकाश राजस्थान रॉयल्स और दिल्ली कैपिटल के बीच खेले जा रहे मैच पर बेटिंग कर रहा था. क्रिक एक्सचेंज नामक एंड्राइड एप्लिकेशन के जरिए वह मैच का रूझान देखता था. इस एप पर टीवी के पहले अपडेट मिल जाती है. आकाश ने अपने ही ग्राहकों का नेटवर्क तैयार किया था, जिसमें दही बाजार निवासी अंकित, शुभम, कोलकाता निवासी सतीश, एन.जी, सन्नी और मुकुंदा का समावेश है.

आकाश अपनी दूकान में बैठकर इन लोगों के साथ क्रिकेट सट्टे लगाता था. लंबे समय से वह यह काम कर रहा है. इन्हीं 6 लोगों के साथ सौदे करके वह बैंक अकाउंट से पैसों का लेनदेन करता है. पुलिस ने उससे मोबाइल सहित 1.78 लाख रुपये का माल जब्त किया है. डीआईजी सुनील फुलारी, डीसीपी गजानन राजमाने और एसीपी सुधीर नंदनवार के मार्गदर्शन में इंस्पेक्टर विनोद चौधरी, एपीआई पंकज धाड़गे, हेड कांस्टेबल अनिल दुबे, दशरथ मिश्रा, श्याम अंगुथेलवार, प्रवीण गोरटे, संदीप मावलकर और फिरोज शेख ने कार्रवाई को अंजाम दिया.