gun

नागपुर. शहर में हो रही हत्या की वारदातों को देखकर लगता है कि अपराधियों में कानून का डर कम हो गया है. आए दिन हत्या की वारदातें सामने आ रही है. बुधवार की शाम आशीर्वादनगर की बैंक कालोनी में हुई वारदात से परिसर के नागरिक भी दहशत में आ गए. दिनदहाड़े एक सब्जी व्यापारी की गोली मारकर हत्या कर दी गई.

पुलिस जांच में जुटी है लेकिन कोई सुराग हाथ नहीं लगा है. मृतक सोमलवाड़ा निवासी उमेश रामदास ढोबले (32) बताया गया. जानकारी के अनुसार उमेश बुधवार की शाम 4 बजे के दौरान 2 लोगों के साथ अपने दुपहिया वाहन क्र. एम.एच.31-एफ.एल.0255 पर आशीर्वादनगर के बैंक कालोनी परिसर में पहुंचा. एक गली के अंदर उसका साथ आए युवकों के साथ विवाद हुआ. 

पीछे से खोपड़ी में मारी गोली

बताया जाता है कि उमेश बीच में बैठा था. उसके पीछे बैठे आरोपी ने पिस्तौल से सिर पर फाइरिंग की. दोनों आरोपी घटनास्थल से भाग निकले. गोली की आवाज सुनकर आस-पास के नागरिक जमा हो गए. घटना की जानकारी मिलते ही सक्करदरा के थानेदार सत्यवान माने अपने दल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे. उमेश को तुरंत उपचार के लिए मेडिकल अस्पताल ले जाया गया.

डीआईजी क्राइम सुनील फुलारी, डीसीपी अक्षय शिंदे, गजानन राजमाने सहित आला अधिकारियों ने घटनास्थल का जायजा लिया. गाड़ी के नंबर और पास मिली वस्तुओं से उमेश की पहचान हुई. पुलिस ने परिजनों को सूचित किया. उमेश का भाई घटनास्थल पर पहुंचा. उसने बताया कि उमेश सब्जी का थोक व्यापार करता था. 

फुटेज खंगाल रही पुलिस 

करीब 1 महीने पहले उसका दीपक और राकेश नामक युवक से विवाद हुआ था. पुलिस ने उन दोनों से पूछताछ की लेकिन घटना से कोई लेना-देना न होने की पुष्टि हुई. उमेश की हालत लगातार नाजुक बनी हुई थी. आपरेशन थियेटर में उसका उपचार चल रहा था. रात 8.30 बजे के दौरान डाक्टरों ने उमेश को मृत घोषित कर दिया. पुलिस अब बाकी एंगल से जांच कर रही है.

बताया जाता है कि आरोपी उमेश की ही गाड़ी पर उसके साथ आए थे. इससे साफ है कि उमेश उन्हें पहले से जानता था. आस-पास के परिसर में पुलिस को फुटेज नहीं मिली है. पुलिस मुख्य चौराहों पर लगे कैमरों की फुटेज खंगाल रही है. हत्या की वारदातों से पुलिस को भी पसीने छूट रहे है. आकस्मिक विवादों को रोका नहीं जा सकता, लेकिन इस तरह दिनदहाड़े किसी की गोली मारकर हत्या करने से नागरिकों में खौफ निर्माण हो रहा है.