16000 की रिश्वत लेते ग्राम सेविका ठाकरे गिरफ्तार

धुलिया. एंटी करप्शन ब्यूरो धूलिया ने सोनेवाडी ग्रामपंचायत ग्रामसेविका पूनम प्रकाश ठाकरे को 16 हजार रुपये की रिश्वत स्वीकारते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. रिश्वत रोकथाम विभाग की इस कार्रवाई से सोनवाड़ी ग्राम पंचायत में खलबली मच गई.  शिकायतकर्ता जो एक निजी ठेकेदार है. उसने गांव में दो घर, सात शौचालयों और एक भूमिगत सीवर का निर्माण किया है.

ग्रामसेविका पूनम ठाकरे ने चेक क्लीयर करने के बदले शिकायतकर्ता से 16,000 रुपये की रिश्वत की मांग की थी. ठेकेदार की इच्छा रिश्वत देने की नहीं होने के कारण उसने शिकायत एसीबी से की गई थी. ब्यूरो ने जाल बिछाकर गवाहों के समक्ष रिश्वत से करते हुए ग्राम सेविका को गिरफ्तार किया है.

इस कार्रवाई को सफलतापूर्वक धुलिया ब्यूरो के पुलिस उप अधीक्षक सुनील कुराडे के निर्देशन में पुलिस निरीक्षक मनजितसिंग चव्हाण, सुधीर सोनवणे, संदीप सरग, कृष्णकांत वाडीले, प्रशांत चौधरी, भुषण खलाणेकर आदि ने रिश्वतखोर ग्राम सेविका पुनम प्रकाश ठाकरे को गिरफ्तार किया है.