Tent for Indian Soldiers, Sonam Wangchuk

    लद्दाख. एक तरफ जहां चीनी सेना लद्दाख में कड़ाके की ठंड से पलायन कर रही है, वहीं भारतीय सेना के जवान लगातार अपने देश की रक्षा के लिए पहाड़ों पर तैनात हैं। इन पहाड़ों पर -20 डिग्री तापमान होता है जो खून को भी जमा देता है। इस बात को दिल में रखकर समाजसेवी सोनम वांगचुक ने सेना के जवानों के लिए अनोखा टेंट बनाया है, जिसमें हमेशा 15 से 20 डिग्री सेल्सियस तापमान रहेगा। भले ही बाहर कितना भी खून जमाने वाला तापमान क्यों न हो।

    गौरतलब है कि पिछले साल 15/16 जून की रात 12 हजार फीट से ज्यादा ऊंचाई पर मौजूद गलवान घाटी (Galwan Vally) में चीनी और भारतीय सैनिकों के बीच हिंसक झड़प (Deadly Clash) हो गई थी। जिसमें 20 भारतीय जवान (Indian Soldiers) शहीद हो गए थे। जबकि चीन के 40 से ज्यादा सैनिक मारे गए थे।

    Tent for Indian Soldiers, Wangchuk

    कौन है सोनम वांगचुक?

    सोनम वांगचुक एक समाजसेवी और फेमस इंजीनियर हैं। बॉलीवुड की सुपरहिट फिल्म थ्री इडियट्स सोनम वांगचुक पर ही बनी थी। जिसमें आमिर खान ने सोनम वांगचुक का किरदार निभाया था और उनका नाम रैंचो रहता है।

    लद्दाख में 24 घंटे बिजली रहना मुश्किल

    सोनम वांगचुक ने बताया कि लद्दाख में 24 घंटे बिजली रहना मुश्किल है। जिससे यहां पर तैनात सैनिक ठंड से राहत पाने के लिए डीजल, मिट्‌टी के तेल से लकड़ियां जलाते हैं, जो उनके लिए नुकसानदेह भी रहता है।

    टेंट की खासियत

    इस टेंट में हीटर लगा हुआ है, जो सोलर एनर्जी से गर्म होता है। साथ ही इसमें सोलर एनर्जी को स्टोर करने की भी क्षमता है। एक टेंट में 10 जवान रह सकते हैं और इसका वजन 30 किलो से भी कम है।

    Tent for Indian Soldiers, Wangchuk

    Tent for Indian Soldiers, Wangchuk