tmc
File Photo

    नंदीग्राम (पश्चिम बंगाल). पश्चिम बंगाल (West Bengal) के नंदीग्राम विधानसभा क्षेत्र (Nandigram Assembly constituency) में शनिवार को भाजपा (BJP) और तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं (Trinamool Congress workers) के बीच झड़प (Clash) में कम से कम तीन व्यक्ति घायल हो गए। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने यह जानकारी दी। पूरब मेदिनीपुर जिले की इस सीट पर एक अप्रैल को मतदान होना है, जहां ममता का मुकाबला कभी उनके सहयोगी रहे एवं भाजपा उम्मीदवार सुभेंदु अधिकारी से है। हालांकि, तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ममता बनर्जी के चुनाव एजेंट शेख सूफियान ने दावा किया कि भाजपा के भाड़े के गुंडों ने राज्य में सत्तारूढ़ दल के कार्यकर्ताओं पर हमला किया। वहीं, भगवा पार्टी ने इन आरोपों से इनकार किया है।

    सूफियान ने दावा किया, “घटना में घायल सभी तीनों कार्यकर्ता तृणमूल कांग्रेस के हैं। उन्हें कोलकाता के एसएसकेएम अस्पताल ले जाया गया है। उनमें से एक की हालत गंभीर है।” उन्होंने आरोप लगाया कि गत 15 दिनों से भाजपा के गुंडों ने नंदीग्राम में आतंक मचा रखा है। सूफियान ने दावा किया, “ये गुंडे तृणमूल कार्यकर्ताओं के घरों में जाकर उनपर हमले कर रहे हैं, उनके हाथ मरोड़ रहे है और यहां तक कि सोने की चेन भी छीन रहे हैं। लेकिन पुलिस कुछ नहीं कर रही है।”

    सूफियान के आरोपों को खारिज करते हुए वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि स्थिति को नियंत्रण में लाने और इलाके में शांति बहाल करने के लिए तत्काल कार्रवाई की गई। स्थानीय भाजपा नेताओं ने तृणमूल नेता के दावे को खारिज करते हुए कहा कि राज्य की सत्तारूढ़ पार्टी के कार्यकर्ता निर्वाचन क्षेत्र में शांति भंग कर रहे हैं।

    भाजपा नेता ने कहा, “हमारा कोई कार्यकर्ता तृणमूल कार्यकर्ताओं पर हमले में शामिल नहीं है। इसके विपरीत सत्तारूढ़ पक्ष के सदस्यों ने सुभेंदु अधिकारी की रैली के दौरान हमारे कार्यकर्ताओं पर हमला किया। तीन तृणमूल कार्यकर्ताओं, जिनका इलाज चल रहा है, वे आपसी झगड़े में घायल हुए हैं।” (एजेंसी)