Sabarimala and Tirumala temple will open for devotees from next week

  • स्वास्थ्य विभाग का संशोधित दिशानिर्देश जारी

तिरूवनंतपुरम. केरल सरकार ने सबरीमला क्षेत्र (Sabarimala) में हाल के दिनों में कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) के मामलों में वृद्धि होने के बाद संशोधित दिशानिर्देश जारी करते हुए कहा है कि वहां तैनात सभी अधिकारियों और तीर्थयात्रियों को आरटी-पीसीआर जांच करानी चाहिए। भगवान अयप्पा का प्रसिद्ध मंदिर सबरीमला में ही स्थित है।

केरल के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी संशोधित दिशानिर्देशों के अनुसार 26 दिसंबर को मंडला पूजा के बाद तीर्थयात्रा पर आने वाले सभी तीर्थयात्रियों और अधिकारियों के लिए आरटी-पीसीआर जांच अनिवार्य कर दी गई है।

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, पिछले महीने वार्षिक तीर्थ यात्रा के लिए मंदिर को खोले जाने के बाद अब तक 51 तीर्थयात्रियों, 245 कर्मचारियों और तीन अन्य लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने का पता लगा है।

राज्य की स्वास्थ्य मंत्री के के शैलजा ने कहा कि पथनमथिट्टा और पड़ोसी कोट्टायम जिलों में कोरोना वायरस से संक्रमण के मामलों में क्रमश: 31 और 11 प्रतिशत वृद्धि दर्ज की गयी है।

सबरीमला मंदिर पथनमथिट्टा जिले में ही है। उन्होंने एक बयान में यहां कहा कि संशोधित दिशानिर्देशों के अनुसार, सबरीमला में तैनात सभी अधिकारियों को आरटी-पीसीआर जांच करानी चाहिए। (एजेंसी)