बंगाल में बोले राजनाथ सिंह, चुनाव में भाजपा की बैटिंग सौरव गांगुली की तरह होगी

    मेदिनापुर: पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव (West Bengal Assembly Election) में जीत के लिए भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) ने पूरी ताकत झोंक दी है। पार्टी ने प्रचार के लिए केंद्रीय मंत्रियों और नेताओं की पूरी फ़ौज उतार दी है। इसी क्रम में मंगलवार को केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने मेदिनापुर में एक चुनावी सभा को संबोधित किया। जहां उन्होंने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) और टीएमसी (TMC) पर जोरदार हमला बोला। इस दौरान  उन्होंने चुनाव में भाजपा के प्रदर्शन की तुलना पूर्व क्रिकेटर सौरभ गांगुली (Sourav Ganguly) की बैटिंग के साथ कर दी।

    जब भी सौरव गांगुली ने क्रीज को पार किया, तो यकीन था कि वह छक्का मारेंगे। इसी तरह, लोकसभा में आपके समर्थन के साथ, हमने क्रीज पार कर ली है और निश्चित रूप से हम विधानसभा चुनावों में 6 बाजी मारेंगे और भाजपा का गठन यहां करेंगे।

    राजनाथ सिंह, रक्षामंत्री, भारत

    उल्लेखनीय है कि, भाजपा 2019 के लोकसभा चुनाव के पहले ही उन्हें अपने पाले में करने की कोशिश में लगी हुई है। लेकिन उसे कामयाबी नहीं मिली। वहीं जब सौरव से राजनीति में शामिल होने को लेकर पूछा जाता है तो वह इससे इंकार कर देते  हैं। लेकिन पिछले दिनों एक इंटरव्यू में उन्होंने राजनीति में आने के थोड़े संकेत दिए थे। एक सवाल के जवाब में दादा ने कहा था कि, “वर्तमन में मेरे पास जो जिम्मेदारी है उसे निभा रहा हूँ, भविष्य में क्या होगा यह अभी नहीं बता सकता हूँ।”

    ममता ने बंगाल का तमाशा बना दिया

    मुख्यमंत्री ममता पर हमला बोलते हुए भाजपा नेता ने कहा, “पश्चिम बंगाल में हमारी सरकार बन गई तो कोई भी यहां बम नहीं बना पाएगा। बम बनाने की कोई जुर्रत करेगा, हम उसको उल्टा कर देंगे। ममता बनर्जी क्या हो रहा है बंगाल में? बम बन रहे हैं। आम जनता के ऊपर बम फेंके जा रहे हैं। तमाशा बना दिया।”

    ज्ञात हो कि, विधानसभा चुनाव के ऐलान से पहले ही सौरव गांगुली के भाजपा में शामिल होने  शुरू थी। कई बार ऐसी खबरें भी आई की दादा जल्द ही भाजपा का दामन थम लेंगे। लेकिन इन चर्चाओं पर ना तो गांगुली ने कुछ कहा, और न भाजपा के नेताओं ने ही। पिछले दिनों खबर आई थी कि कोलकाता में हुई प्रधानमंत्री मोदी की रैली में वह पार्टी में शामिल होंगे, लेकिन यह खबर पिछली खबरों की तरह अफवाह ही निकली।