PMPML

    पुणे. कोरोना की पृष्ठभूमि में पुणे महानगर परिवहन निगम (PMP) की यात्री सेवा को 3 अप्रैल से निलंबित कर दिया गया था, लेकिन अब पुणे नगर निगम ने पाबंदियों में ढील दी है। अब पीएमपी भी 7 तारीख से बसें (‍‍Buses) चलने लगेगी। ऐसी जानकारी पीएमपी सीएमडी राजेंद्र जगताप (PMP CMD Rajendra Jagtap) ने दी।

    पहले चरण में करीब 25 फीसदी यानी 416 बसें 179 रूटों पर चलेंगी। पिछले साल मार्च से सितंबर तक पीएमपी सेवा को कोरोना के कारण निलंबित कर दिया गया था। इस सेवा को अनलॉक में चरणों में शुरू किया गया है। शहर में करीब 1,400 बसों का परिचालन फिर से शुरू होगा। हालांकि, कोरोना पीड़ितों की संख्या बढ़ने के कारण यातायात पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। कर्फ्यू के कारण 3 अप्रैल से बस सेवा को निलंबित कर दिया गया था।

    आपातकालीन सेवा कर्मियों के लिए चल रही बसें

    पिछले दो माह से सिर्फ आपातकालीन सेवा कर्मियों और नागरिकों के लिए ही बसें चल रही हैं। प्रशासन ने शनिवार (5 जून) को “ब्रेक द चेन” नियम के तहत छूट के बाद सोमवार से पीएमपी की सेवा फिर से शुरू करने का भी फैसला किया है। इससे मुख्य रूप से मजदूर वर्ग को राहत मिलेगी, लेकिन अब जब पाबंदियों में ढील दी गई है तो आम जनता के लिए भी बस सेवाएं शुरू की जाएंगी। एक तरफ पेट्रोल की कीमतों में बढ़ोतरी से नाराज पुणे में आम जनता को पीएमपी के शुरू होने से राहत मिलेगी।

    संख्या धीरे-धीरे बढ़ेगी

    पुणे, पिंपरी-चिंचवड़ और जिले के अन्य हिस्सों में भी बसें चलेंगी। केवल 50 प्रतिशत बैठने की क्षमता के साथ पृष्ठभूमि में कोरोना काम करता रहेगा। निकट भविष्य में यात्रियों की संख्या का अनुमान लगाते हुए बसों की संख्या बढ़ाई जाएगी।