आदिवासी विकास योजनाओं की प्रभावी अमलबाजी के लिए हुई अहम बैठक

  • विधायक सुनील शेलके की अगुवाई

पिंपरी. आदिवासी समुदाय के कल्याणार्थ विविध विकास योजनाओं की प्रभावी अमलबाजी के लिए राष्ट्रवादी कांग्रेस के विधायक सुनील शेलके की अगुवाई में सम्बंधित अधिकारियों और आदिवासी समुदाय के महत्वपूर्ण व्यक्तियों की एक अहम बैठक हुई.इस बैठक में आदिवासी समाज के कल्याणार्थ रही विविध योजनाओं के स्वरूप और उसकी प्रभावी अमलबाजी को लेकर व्यापक चर्चा की गई.

आदिवासी विकास विभाग की ओर से सरकारी स्तर पर कई योजनाएं हैं. मगर कुछ योजनाओं को ठीक से लागू नहीं किया जाता है. कुछ योजनाओं के लिए, लाभार्थियों की ओर से कोई प्रतिसाद नहीं मिल रहा है.आने वाले समय में मावल तालुका में जमीनी स्तर तक इन सरकारी योजनाओं को लागू किया जाएगा.इन योजनाओं से आदिवासी समुदाय लाभान्वित हो सकते हैं.कई योजनाएं आर्थिक रूप से वंचित आदिवासियों आधार देगी.इसके लिए सभी अधिकारी भी सहयोग करेंगे, यह उम्मीद विधायक शेलके ने जताई.

अनुदान योजना शुरू की 

आदिवासियों को वित्तीय और आत्मनिर्भर बनाने के लिए उद्योगों और व्यवसायों की स्थापना के लिए शबरी आदिवासी वित्त विकास महामंडल की ओर से ऋण और बीज पूंजी प्रदान करता है. महिला सशक्तिकरण के लिए वित्तीय सहायता भी ऋण के रूप में प्रदान की जाती है.सरकार ने हाल ही में उन आदिवासियों के लिए खावटी अनुदान योजना शुरू की है जो कोरोना के कारण वित्तीय कठिनाइयों का सामना कर रहे हैं.आदिवासी विकास महामंडल और नासिक के आदिवासी विकास कमिश्नर ने प्रस्तावित खावटी अनुदान योजना के कार्यान्वयन को मंजूरी दी है, यह जानकारी भी बैठक में दी गई.

इनकी रही उपस्थिति

इस बैठक में एस.एस.पिंगले उपप्रादेशिक प्रबन्धक घोडेगांव, आर.ओ.रॉय सहायक प्रादेशिक प्रबन्धक जुन्नर, आर.बी.मगटराव प्रभारी शाखा प्रबंधक शबरी कार्यालय जुन्नर, एम.एम.दवणे विपणन निरीक्षक घोडेगांव, एस.के. वाणी समेत अन्य अधिकारियों म अलावा शंकर बोऱ्हाडे, शंकर सुपे पूर्व सभापति, राघुजी तलपे अध्यक्ष राष्ट्रवादी आदिवासी सेल, नारायण काठे, किसन सुपे, सतूजी दगडे, नागोजी डोंगे, गबलु लांघी, नारायण चिमटे, ज्ञानेश्वर आढले, किरण हेमाडे, दिलीप बगाड, किरण हिले, लहु पोफले, शंकर हेमाडे, बाबू वाजे, भाऊ मोरमारे माजी सरपंच, मारुती चिमटे, सखाराम केंद्रे, कैलास करवंदे आदि उपस्थित थे.