20 करोड़ की मेफेड्रॉन की खेप पकड़ाई

  • चाकण में 5 आरोपी गिरफ्तार
  • पिंपरी चिंचवड़ पुलिस की बड़ी कामयाबी

पिंपरी. अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की आत्महत्या के बाद न केवल महाराष्ट्र बल्कि पूरे देश भर में ड्रग्स का मामला गूंज रहा है. इसी गहमागहमी में पिंपरी चिंचवड़ पुलिस की नशीले पदार्थ विरोधी दस्ते ने बीती रात पुणे और पिंपरी चिंचवड़ से सटे चाकण इलाके में मेफेड्रॉन (एमडी) ड्रग्स की बड़ी खेप पकड़ी है. जब्त किए गए ड्रग्स की कीमत 20 करोड़ रुपये बताई गई है.पुलिस ने इस मामले में 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. पिंपरी चिंचवड़ शहर में इतने बड़े पैमाने पर ड्रग्स मिलने का यह पहला मौका है. ड्रग्स की यह खेप बिक्री के लिए पिंपरी चिंचवड़ शहर में लायी जा रही थी, यह खुलासा पुलिस आयुक्त कृष्णप्रकाश ने गुरुवार को एक संवाददाता सम्मेलन में किया.

 पिंपरी लाई जा रही थी

चाकण-शिक्रापुर रोड पर की गई इस कार्रवाई में चेतन फक्कड दंडवते (28, मलठण-आंबे स्ती, शिरुर, पुणे) आनंदगीर मधुगिर गोसावी (25, जलगांव, फिलहाल अकोले, शिरुर, पुणे), अक्षय शिवाजी काले (25, पाचर्णे मला, शिरुर, पुणे), संजीव कुमार बन्सी राऊत (44, झारखंड, फिलहाल उत्तरप्रदेश), तौसिफ हसन मोहम्मद तस्लीम (32,  मुजफ्फरनगर, फिलहाल नोएडा) नामक आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. उनके खिलाफ पुलिस के नशीले पदार्थ विरोधी दस्ते के सहायक पुलिस उपनिरीक्षक शाकिर जिनेड़ी ने चाकण पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है. इसके अनुसार आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट की धारा 8 (क), 21 (क), 22 (क), 29 के तहत मामला दर्ज किया गया है.

कार में रखे बैग से मिला 

पुलिस आयुक्त ने बताया, नीली रंग की एक पोलो कार में ड्रग्स की एक बड़ी खेप चाकण-शिक्रापुर रोड पर शेल पिंपलगांव में आने वाली है, यह जानकारी शाकिर जिनेड़ी को मुखबिर से मिली थी. इस जानकारी के आधार पर नशीले पदार्थ विरोधी दस्ते के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक श्रीराम पौल के नेतृत्व वाली टीम ने शेल पिंपलगांव में जाल बिछाया और जिस कार में यह खेप लायी जा रही थी उसका पीछा करते हुए एक होटल के रोककर उसकी तलाशी ली गई. कार में 5 लोग सवार थे, उनमें से एक आरोपी की बैग में बड़े पैमाने पर एमडी ड्रग बरामद हुई. पुलिस ने कार और ड्रग्स जब्त कर उसमें सवार पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया.

नशे के कारोबार में और कौन कौन लिप्त?

23 हजार 100 रुपए नकद, पांच लाख रुपए की कार के साथ कुल 20 करोड़ पांच लाख 23 हजार 100 रुपए का माल इस कार्रवाई में बरामद किया गया. इस बड़ी उपलब्धि के लिए पुलिस आयुक्त कृष्णप्रकाश ने पूरी पुलिस टीम की सराहना की और उन्हें बधाइयां दी. इस पूरी कार्रवाई को नशीले पदार्थ विरोधी दस्ते के पुलिस निरीक्षक श्रीराम पौल, सहायक पुलिस निरीक्षक प्रशांत महाले, सहायक फौजदार शाकीर जिनेडी, राजन महाडिक, कर्मचारी प्रदीप शेलार, राजेंद्र बांबले, शकूर तांबोली, दिनकर भुजबल, संदीप पाटिल, संतोष दिघे, प्रसाद जंगीलवाड, संतोष भालेराव, अशोक गारगोटे, दादा धस, प्रसाद कलाटे, शैलेश मगर, अजित कुटे, पांडुरंग फुंदे, प्रदीप गुट्टे, अनिता यादव की टीम ने अंजाम दिया.

बॉलीवुड का ड्रग्स कनेक्शन उजागर होने के बाद पिंपरी चिंचवड़ शहर में एमडी नामक ड्रग्स की इतनी बड़ी खेप मिलने से खलबली मच गई है. यह खेप शहर में ही बेचने के लिए लायी गयी थी, ऐसा पता चलने के बाद पुलिस यह जानने में जुटी है कि आरोपियों ने यह ड्रग्स कहां से लायी और किसे बेचनेवाले थे. उनके साथ नशे के इस कारोबार में और कौन कौन लिप्त है?

पिंपरी चिंचवड़ शहर में इतने बड़े पैमाने पर ड्रग्स मिलने का यह पहला मौका है. ड्रग्स की यह खेप बिक्री के लिए पिंपरी चिंचवड़ शहर में लायी जा रही थी. इस कारोबार में कौन कौन लिप्त है, इसे जानने में पुलिस जुट गई है.

कृष्णप्रकाश, पुलिस आयुक्त, चाकण