मनसे लड़ेगा ग्राम पंचायत का चुनाव

  • जिला पदाधिकारियों की बैठक में राज ठाकरे का फैसला
  • कार्यकर्ताओं को तैयारी करने के आदेश दिए
  • पहली बार मैदान में

पुणे. राज्य में होनेवाले ग्राम पंचायत के चुनाव (Gram Panchayat elections) में महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) भी अपना भाग्य आजमाएगा. पार्टी की स्थापना के बाद पहली बार मनसे ग्राम पंचायत चुनाव लड़ेगा. वह पूरी ताकत से इस बार मैदान में उतरेगी. 

पुणे जिले के पदाधिकारियों की बैठक में पार्टी सुप्रीमो राज ठाकरे (Raj Thakrey) ने यह फैसला लिया और कार्यकर्ताओं को पूरी तैयारी करने को कहा.

अगले सप्ताह जिला स्तरीय सम्मेलन

पार्टी की स्थापना के बाद 14 वर्षों में मनसे कभी भी ग्राम पंचायत चुनाव में नहीं उतरी. उसने इसे कभी भी गंभीरता से नहीं लिया. पर अब गांव स्तर के चुनाव में भी पार्टी उतरने जा रही है. इस संबंध में राज ठाकरे ने पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं को जुट जाने को कहा. पिछले 2 दिनों से राज ठाकरे पुणे में थे. इस दौरान उन्होंने पार्टी के पदाधिकारियों के साथ चर्चा की. तालुका स्तर पर पार्टी के कार्यों की समीक्षा उन्होंने ली. पार्टी के नेता बाबू वागसकर ने भी राज ठाकरे के आदेश के बाद एक के बाद एक कई बैठक लेना शुरू कर दिया है. जिले के अधिकांशत: तालुका के पदाधिकारियों के साथ उन्होंने बैठक की. 

अगले सप्ताह जिलास्तरीय सम्मेलन 

ग्राम पंचायत चुनाव की तैयारी के लिए राज ठाकरे अगले सप्ताह जिलास्तरीय सम्मेलन भी लेंगे.  गौरतलब है कि शिवसेना को राम राम करने के बाद साल 2006 में राज ठाकरे ने महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ( मनसे ) की स्थापना की. पुणे, नाशिक, मुंबई महापालिका चुनाव में पार्टी ने उम्मीद से बेहतर प्रदर्शन किया. विधानसभा चुनाव में भी पार्टी ने 10 से अधिक सीटें जीतीं पर पिछले लोकसभा चुनाव और विधानसभा चुनाव में उसके लिए नतीजे काफी बुरे रहे. ऐसे में पार्टी का झंडा भी बदला गया. अब पार्टी ने पहली बार ग्राम पंचायत चुनाव लड़ने का फैसला किया है. देखना है यह उसके लिए कितना फायदेमंद साबित होता है.