आगामी 2 माह में 800 करोड़ की वसूली करें

– स्थायी समिति अध्यक्ष के रेवेन्यू कमेटी से निर्देश

पुणे.  महापालिका के तिजोरी में आय जमा हो, इसके लिए स्थायी समिति अध्यक्ष हेमंत रासने ने रेवेन्यू कमिटी बनाई है. इस कमिटी की शुक्रवार को बैठक हुई. इसमें रासने ने कमिटी को आगामी 2 माह में 800 करोड़ कमाने के निर्देश दिए है. 

इसके लिए टैक्स विभाग को अतिरिक्त कर्मी देने की तैयारी भी अध्यक्ष ने दर्शायी है. साथ ही पीएमआरडीए का फॉलो अप लेकर उनसे 300 करोड़ की राशि लेने के निर्देश भी अध्यक्ष ने इस कमिटी में दिए.  

 रेवेन्यू कमिटी की हुई बैठक

 ज्ञात हो कि महापालिका प्रशासन आय में वृद्धि होने के बजाय इसमें घाटा ही हो रहा है. इसका सीधा असर विकास कामों पर होगा. इस वजह से अब मनपा के इस आय को लेकर चिंता जतायी जा रही थी. वजह से प्रशासन ने आय में बढ़ोतरी करने को लेकर एक रेवेन्यू कमिटी बनायी है, लेकिन यह कमिटी भी आय बढ़ाने को लेकर कुछ नहीं कर पा रही है.  इस वजह से स्थायी समिति अध्यक्ष ने इस पर नाराजगी जताई थी. आय बढ़ाने को लेकर नई राजस्व समिति बनाने के निर्देश दिए थे. इसके अनुसार यह कमिटी बनाई है. इसकी बैठक हाल ही में हुई. इस अवसर पर स्थायी समिति अध्यक्ष ने उक्त निर्देश दिए.

पीएमआरडीए से ले निधि  

इस बारे में हेमंत रासने ने कहा कि अक्टूबर 2017 में महापालिका सीमा में 11 गांव समाविष्ट हुए है. ये गांव मनपा में शामिल होने से पहले इसकी जिम्मेदारी पीएमआरडीए के पास थी. इस वजह से इन गांवों की सभी अनुमतियां पीएमआरडीए द्वारा ही दी जाती थी. निर्माण कार्य की अनुमति देने के बाद इससे संबंधित शुल्क भी पीएआरडीए के पास ही अदा करना पड़ता था. यह शुल्क उनसे वसूलने के लिए हमने प्रशासन से कहा है. इससे करीब 300 करोड़ मनपा को मिलेंगे. रासने ने कहा कि विगत साल टैक्स विभाग ने जून माह तक 800 करोड़ कमाए थे. इस साल 470 करोड़ जमा हुए हैं. आगामी काल में ये शेष 330 करोड़ कमाने के लिए हमने टैक्स विभाग से कहा है. उसके लिए हम टैक्स विभाग को अतिरिक्त स्टाफ भी देंगे. रासने के अनुसार 1% स्टैम्प ड्यूटी का 144 करोड़ का निधि राज्य सरकार के पास बकाया है. यह निधि लाने के लिए प्रयास करें. ऐसे भी निर्देश कमिटी को दिए गए.