सेंधमारी करनेवाले गिरोह पर शिकंजा, 3 गिरफ्तार

  • 32.53 लाख का माल बरामद

पुणे. कोरोना के संकटकाल में सेंधमारी की वारदातें बढ़ रही हैं. इसे ध्यान में रखकर पुणे पुलिस ने मुखबिरों के नेटवर्क को सतर्क कर और पैट्रोलिंग बढ़ा दी है. इसके फलस्वरूप पुणे की वानवडी पुलिस ने सेंधमारी की वारदात को अंजाम देने वाले एक गिरोह पर शिकंजा कसने में सफलता प्राप्त की है. इस गिरोह के 3 सदस्यों को गिरफ्तार कर उनसे अब तक 13 मामले उजागर हुए हैं. साथ ही सेंधमारी की वारदातों में चुराए गए 32 लाख 53 हजार रुपए का माल भी बरामद किया गया है.

गिरफ्तार आरोपियों में रवि सिंह श्याम सिंह कल्याणी (22), बिंतु सिंह श्याम सिंह कल्याणी (24) और हुकुम सिंह रामसिंह कल्याणी (28) सभी निवासी सर्वे नंबर 110, कोठारी व्हील शोरुम के पीछे, रामटेकडी, हडपसर, पुणे का समावेश है.

पुलिस को मुखबिर से मिली सूचना

 पुलिस को मुखबिर से पता चला था कि सेंधमारी की वारदातों में शिकलकर गिरोह का हाथ है. इसके अनुसार पुलिस टीमों ने तीन तक जाल बिछाकर तब उक्त आरोपियों को धर दबोचा, जब वे नहाने के लिए अपने घर आये थे. पूछताछ के दौरान उनसे सेंधमारी की 13 वारदातें उजागर हुई हैं. साथ ही उनसे 343 ग्राम सोना, 664 ग्राम चांदी के जेवर, 3 दोपहिया, 4 चार पहिया वाहन और 26 हजार नकद कुल 32 लाख 53 हजार 500 रुपए का माल बरामद किया है.

13 वारदातें उजागर 

गिरफ्तार आरोपियों के खिलाफ वानवडी पुलिस स्टेशन में चार, येरवडा पुलिस स्टेशन में दो, मुंढवा, मार्केटयार्ड, भारती विद्यापीठ, हडपसर, चंदननगर, दत्तवाडी और पिंपरी चिंचवड़ के चिखली पुलिस स्टेशन में दर्ज एक- एक कुल 13 मामले उजागर हुए हैं.अपर पुलिस आयुक्त नामदेव चव्हाण, उपायुक्त सुहास बावचे, सहायक आयुक्त कल्याणराव विधाते, वानवडी पुलिस थाने के वरिष्ठ पुलिस निरिक्षक क्रांतिकुमार पाटील, पुलिस निरिक्षक (अपराध) सलीम चाऊस के मार्गदर्शन में सहायक पुलिस निरिक्षक आसाराम शेटे, पुलिस हवलदार राजू रासगे, आनंद पाटोले, पुलिस नाईक संभाजी देविकर, योगेश गायकवाड, सिपाही नासिर देशमुख, नवनाथ खताल, सुधीर सोनवणे, अनुप सांगले, महेश कांबले, अमित चिव्हे के समावेश वाली टीम ने अंजाम दिया.इससे पहले वानवडी पुलिस ने एक वर्ष में शिकलकरी गिरोह से अगस्त 2019 में 51 मामले उजागर कर एक किलो सोना, 10 किलो चांदी, वाहन आदि एक करोड़ रुपये और फरवरी 2020 में 21 मामले उजागर उनसे 110 किलो चांदी का एक करोड़ रुपये का माल बरामद किया है.