File Photo
File Photo

    -सीमा कुमारी

    सनातन हिंदू धर्म में रविवार का दिन सूर्यदेव को समर्पित होता है, ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक,इस दिन सूर्य भगवान की पूजा-अर्चना करने से कीर्ति, यश, समृद्धि, आयु, आरोग्य, तेज-शांति, सौभाग्य और कार्यक्षेत्र में सफलता की प्राप्ति होती है। सूर्यदेव को वेदों में जगत की आत्मा भी कहा गया है, सूर्य से ही इस पृथ्वी पर जीवन है, यह एक सर्वमान्य सत्य है. वैदिक काल में आर्य सूर्य को ही सारे जगत का कर्ता धर्ता मानते थे. ऐसे में सूर्यदेव की उपासना करके रोगों से मुक्ति पाई जा सकती है.रविवार के दिन कुछ खास उपाय करने से सूर्य देव की कृपा प्राप्त हो सकती हैं, आइए जानें इन ख़ास उपायों के बारे में…

    • ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, रविवार के दिन भगवान सूर्य को तांबे के लोटे में जल, चावल, फूल डालकर अर्घ्य देना चाहिए,ऐसा करने से सूर्यदेव  प्रसन्न होते है और भक्तों को मनोवांछित वरदान देते है। 
    • कुंडली में सूर्य को मजबूत बनाने के लिए लाल रंग के कपड़े, गेहूं, गुड़, तांबे के बर्तन और लाल चंदन का दान रविवार के दिन करना चाहिए। आप अपनी क्षमतानुसार दान कर सकते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ऐसा करने से सूर्य बलवान होता है और आपके मान-सम्मान में वृद्धि होती है। आधिकारिक पद पर आसीन लोगों का सहयोग भी प्राप्त होता है।
    • शास्त्र के मुताबिक, उत्तर-पूर्व दिशा को ईशान कोण नाम से जाना जाता है, इस दिशा का आधिपत्य सूर्यदेव के पास है,इसलिए इस दिशा में बुद्धि और विवेक से जुड़े कार्य करने चाहिए। 
    • रविवार के दिन सूर्य देव को जल अर्पित करें। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार सूर्य देव को जल अर्पित करने से शुभ फल की प्राप्ति होती है। आप रोजाना भी सूर्य देव को जल अर्पित कर सकते हैं। ऐसा करने से सूर्य देव की कृपा सदैव आप पर बनी रह सकती है। 

    सूर्य देव को प्रसन्न करने के लिए इस मंत्र का जप करें…

    ‘एहि सूर्य सहस्त्रांशो तेजोराशे जगत्पते।

    अनुकम्पय मां भक्त्या गृहणार्घ्यं दिवाकर।।