सचिन, सौरव सहित पूर्व क्रिकेटरों ने गोयल के निधन पर शोक व्यक्त किया

नई दिल्ली. दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर और भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) अध्यक्ष सौरव गांगुली सहित पूर्व क्रिकेटरों ने घरेलू क्रिकेट की हस्ती राजिंदर गोयल के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए उन्हें अपनी कला में माहिर खिलाड़ी करार दिया। बायें हाथ के स्पिनर गोयल का उम्र संबधी बीमारियों के कारण रविवार को निधन हो गया था। वह 77 साल के थे। उनके परिवार में पत्नी और पुत्र नितिन गोयल हैं जो स्वयं प्रथम श्रेणी क्रिकेटर रहे हैं और घरेलू मैचों के मैच रेफरी हैं। तेंदुलकर ने उनके निधन पर ट्वीट किया, ‘‘राजिंदर गोयल जी के निधन की खबर सुनकर दुखी हूं। वह भारतीय घरेलू क्रिकेट के दिग्गज थे जिन्होंने रणजी ट्राफी में 600 से अधिक विकेट लिये। मैं उनकी आत्मा की शांति के लिये प्रार्थना करता हूं और उनके परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं।

 

” बीसीसीआई ने बयान जारी करके गोयल के निधन पर शोक जताया। पूर्व कप्तान और अब बोर्ड अध्यक्ष गांगुली ने बीसीसीआई के बयान में कहा, ‘‘भारतीय क्रिकेट समुदाय ने घरेलू क्रिकेट की हस्ती को गंवा दिया। उनके शानदार रिकार्ड इसके गवाह हैं कि वह अपनी कला में कितने माहिर थे। उनका करियर 25 साल से अधिक समय तक चला और वह लगातार अच्छा प्रदर्शन करते रहे जिससे खेल के प्रति उनके समर्पण और प्रतिबद्धता का पता चलता है। ” भारत के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने भी उन्हें अपनी कला में माहिर क्रिकेटर बताया। उन्होंने अपने ट्विटर पेज पर लिखा, ‘‘राजिंदर गोयल जी की आत्मा की शांति के लिये प्रार्थना करता हूं। वह अपनी कला के माहिर थे।

उनकी लाइन व लेंथ शानदार थी। वह बहुत अच्छे इंसान थे। ” बायें हाथ के स्पिनर गोयल ने हरियाणा और उत्तर क्षेत्र की तरफ से खेलते हुए 157 मैचों में 750 विकेट लिये। वह 1958-59 से 1984-85 तक कुल 26 सत्र तक क्रिकेट खेलते रहे लेकिन उन्हें कभी भारत का प्रतिनिधित्व करने का मौका नहीं मिला क्योंकि तब भारत के पास बिशन सिंह बेदी के रूप में बायें हाथ का बेहतरीन स्पिनर था। गोयल ने अपने जीवन में कभी इसकी शिकायत नहीं की और बेदी ने भी उन्हें संतोषी व्यक्ति बताया। बेदी ने ट्वीट किया, ‘‘मैं जितने लोगों को जानता हूं उनमें राजिंदर गोयल सबसे अधिक संतोषी इंसान थे। मैं अपने मुश्किल दिनों में संतोष की उनकी भावना से ईर्ष्या करता था। ईश्वर आपकी आत्मा को शांति प्रदान करे गोयली। आपने रणजी ट्राफी को जीवंत रखने के लिये अपनी जी जान लगायी। ” क्रिकेटर से कमेंटेटर बने संजय मांजरेकर ने कहा कि वह गोयल के गेंदबाजी रिकार्ड से हैरान हैं। भारतीय सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने भी उनके निधन पर शोक व्यक्त किया। पूर्व भारतीय बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘रणजी ट्राफी के इतिहास में सर्वाधिक विकेट लेने वाले राजिंदर गोयल के निधन से बेहद दुखी हूं। उनके परिवार और प्रियजनों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना।”(एजेंसी)