Team India
File Photo

    अबुधाबी: भारत की टी20 वर्ल्डकप के सेमि फ़ाइनल में पहुंचने की उम्मीद टूट गई है। रविवार को खेले गए ग्रुप मैच में न्यूजीलैंड ने अफ़ग़ानिस्तान को आठ विकेट से हरा दिया। इसी के साथ न्यूजीलैंड ने सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्का कर लिया है। न्यूजीलैंड की जीत के साथ ही वर्ल्डकप में भारतीय टीम का सफ़र समाप्त हो गया है।

    दरअसल, अगर अफगानिस्तान लीग के आखिरी मैच में न्यूजीलैंड को हरा देता तो भारत की सेमीफाइनल में जाने की संभावना बढ़ जाती। क्योंकि, ग्रुप 2 के रनरेट टैली की बात करें तो भारत का रनरेट सभी टीमों से ज्यादा है। न्यूजीलैंड मैच हारता तो उसके छह पॉइंट होते और उसका रनरेट भी कम हो जाता। वहीं  वाले मैच में भारत नामीबिया को अच्छे स्कोर से हरा देता तो तीनों टीमों के अंक समान हो जाते। 

    इस समय कौन-सी टीम सेमीफाइनल में जाएगी इसका निर्णय रन रेट से तय किया जाता। उस समय भारत का रनरेट सबसे ज्यादा होता और टीम इण्डिया सेमीफ़ाइनल में प्रवेश कर जाता। 

    अफगानिस्तान ने बनाए 124 रन 

    अफगानिस्तान ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैलसा रहा। लेकिन टीम की शुरुआत बेहद ख़राब रही। अफ़ग़ानिस्तान की शुरूआती पांच विकेट 60 रन पर गिर गए। हालांकि, इस दौरान नजीबुल्लाह ने एक छोर पर टिके रहे और अपनी टी20 करियर का छठा अर्धशतक लगाया। नजीबुल्लाह के 73 रन के बदौलत अफगानिस्तान ने न्यूजीलैंड को जीत के लिए 125 रन का टारगेट दिया। न्यूजीलैंड की तरफ से ट्रेंट  बोल्ट ने शानदार गेंदबाजी करते हुए चार ओवर में 17 रन देकर तीन विकेट लिए। 

    11 गेंद शेष रहते न्यूजीलैंड ने जीता मैच

    लक्ष्य का पीछा करने उतरी न्यूजीलैंड की अच्छी शुरुआत नहीं हुई। 25 रन के स्कोर पर टीम ने अपना पहला विकेट खो दिया। तीसरे नंबर बैटिंग करने उतरे कप्तान केन विलियमसन ने अपने चित परिचित अंदाज में बल्लेबाजी करते हुए पिच पर जम गए। वहीं उनके साथ डेवोन कॉनवे ने भी  साथ दिया और टीम को जीत तक पहुंचाया। केन और कॉनवे की क्रमशः 40 और 36  रन के बदौलत न्यूजीलैंड ने 11 गेंद शेष रहते मैच जीत लिया।