Virat kohli Rohit Sharma
File Photo

    मुंबई: भारत के सीमित ओवरों की टीम के नये कप्तान रोहित शर्मा (Captain Rohit Sharma) ने कहा कि विराट कोहली (Virat Kohli) ने पांच साल तक टीम की मोर्चे से अगुवाई की और उन्होंने इस स्टार बल्लेबाज की कप्तानी में खेले हर एक पल का पूरा मजा लिया। रोहित ने ‘बीसीसीआई टीवी’ (BCCI TV) से बातचीत में कहा कि टीम ने कोहली की कप्तानी में खेलने का पूरा आनंद लिया। कोहली ने टी20 विश्व कप (T20 World Cup) के बाद टी20 टीम की कप्तानी छोड़ दी और बाद में उनकी जगह रोहित को वनडे टीम का भी कप्तान बनाया गया।  

    रोहित ने दक्षिण अफ्रीका दौरे (South Africa Tour) से पहले भारतीय टेस्ट टीम (Indian Test Cricket Team)  के अभ्यास सत्र से इतर कहा,‘‘उसने पांच साल तक मोर्चे से टीम की अगुवाई की। हम हर मैच जीतने के इरादे से ही उतरते थे और पूरी टीम को यही संदेश दिया गया था।” उन्होंने कहा,‘‘उसकी कप्तानी में खेलने का हमने पूरा आनंद उठाया। मैने उसकी कप्तानी में काफी क्रिकेट खेली और हर पल का मजा लिया। आगे भी लेता रहूंगा।” भारतीय टीम सितारों से भरी होने के बावजूद 2013 के बाद से कोई आईसीसी खिताब नहीं जीत सकी है। रोहित ने कहा कि उन्हें चुनौतियों का अहसास है और वह इस कमी को पूरा करने की कोशिश करेंगे।   

    उन्होंने कहा,‘‘हमें कई चीजों पर काम करना होगा। हमने आखिरी आईसीसी ट्रॉफी 2013 में जीती थी लेकिन उसके बाद से भी हमारा प्रदर्शन खराब नहीं रहा है। हमने एक टीम के रूप में अच्छा प्रदर्शन किया और जो मामूली सी कमी रह गई, उसे पूरी करने की कोशिश करेंगे। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट काफी चुनौतीपूर्ण है और ऐसा होता है।” उन्होंने कहा,‘‘भारत में कई विश्व कप होने हैं और टीम अपने दर्शकों के सामने अच्छे प्रदर्शन की कोशिश में होगी। हमारा फोकस खिताब जीतने पर है लेकिन उसके लिये एक ईकाई के रूप में प्रक्रिया का पालन करना होगा।” 

    रोहित ने कह,‘‘आप कठिन चुनौतियों का सामना कैसे करते हैं, वह महत्वपूर्ण है। अतीत में भी हम इस तरह की चुनौतियों का सामना करते आये हैं और उनसे उबर नहीं सके। हमें एक टीम के रूप में लगातार अच्छा प्रदर्शन करना होगा।” उनके लिये पहला काम यह सुनिश्चित करना होगा कि टीम में हर खिलाड़ी को उसकी भूमिका का पता हो। उन्होंने कहा,‘‘जब भी मुझे भारतीय टीम की कप्तानी का मौका मिला तो मैने खिलाड़ियों से स्पष्ट संवाद की कोशिश की है। कोच और कप्तान के लिये यह जरूरी भी है। मैं खिलाड़ियों को यह समझाने की कोशिश करूंगा कि टीम में उनका चयन किसलिये हुआ है और उनकी क्या भूमिका है।” उन्होंने कोच राहुल द्रविड़ के बारे में कहा,‘‘राहुल भाई के साथ मजा आ रहा है।हमने देखा है कि वह कैसे कठिन क्रिकेट खेलते थे। इत्मीनान का भी माहौल है जो जरूरी भी है।” (एजेंसी)