The famous doctor of the country warned the people, 'Corona is just beginning, it will explode in June-July'

  • जिले में मची खलबली

गडचिरोली. कोरेाना लॉकडाऊन के तिसरे चरण तक गडचिरेाली जिले ने ग्रीन झोन कायम रखा था. मा9 केंद्र व राज्य सरकार द्वारा घोषित किए गए लॉकडाऊन चौथे चरण के प्रथम दिन ही जिले में 5 कोरोना बाधित मरीजों पाए जाने से जिले में खलबली मची है. इसमें कुरखेडा तहसील के 4 तो चामोर्शी तहसील के 1 कोरोना पॉझीटीव मरीज का समावेश है. समुचे राज्य में कोरोना से मृत्यू होने की संख्या हजार से अधिक हुई, वहीं कोरोना बाधितों की संख्या दिन ब दिन बढ रही है. राज्य में कोरोना ने सर्वत्र हाहाकार मचाया था, ऐसे में गडचिरोली जिले ने कोरोना लॉकडाऊन के 3 चरण तक ग्रीन जिले का नाम कायम रखा था.

मात्र केंद्र व राज्य सरकार ने लॉकडाऊन के चौथे चरण की घोषणा करते ही आज पहले ही दिन जिले में जगह जगह 5 कोरोना पॉझीटीव मरीजों का पंजियन किया गया. 17 मई को देररात आयी प्रशासकीय रिपोर्ट के अनुसार कुरखेडा के 2 तो चामोर्शी के 1 पॉझीटीव का पंजियन किया था. वहीं आज 18 मई को सुबह 11 बजे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार कुरखेडा तहसील के 2 यात्रीयों की रिपोर्ट पॉझीटीव आने से जिले में कोरोना मरीजों की संख्या 5 हुई है. संबंधित कोरोना बाधित मरीजों को जिला अस्पताल के आयसोलेशन वार्ड में दाखिल किए जाने की जानकारी स्वास्थ्य विभाग ने दी है.

कुरखेडा तहसील के खेडेगांव (गेवर्धा), चिंचेवाडा, येंगलखेडा के मजदूर गोंदिया जिले के अन्य 30 मजदूरों के साथ मुंबई से ट्रक द्वारा आने की जानकारी है. इसके बाद उन्हे सबसे पहले गांव के क्वारंटाईन केंद्र में दाखिल किया गया. मात्र उक्त मजदूर रेड झोन से आने की जानकारी प्रशासन को प्राप्त होते ही उन्हे कुरखेडा के क्वारंटाईन केंद्र में स्थलांतरीत किया गया. 16 मई को 30 नागरिकों के नमुने जांच के लिए भेजे गए. उनमें से 2 लोगों की रिपोर्ट पॉझीटीव पायी है. वहीं आज 18 मई को सुबह के दौरान फिर से 2 लोगों की रिपोर्ट पॉझीटीव आने से कुरखेडा तहसील में कोरोना बाधितों की संख्या 4 हुई है. चामोर्शी तहसील में कुल 190 लोगों को क्वारंटाईन किया गया. जिसमें आईटीआई में 24, छात्रावास में 88 तो मार्कंडादेव के आदिवासी आश्रमस्कूल तथा छात्रावास में 78 नागरिकों का समावेश है. इसमें से 15 नागरिकों के नमुने जांच के लिए भेजे गए थे.

इनमें श्रीनिवासपूर के एक व्यक्ति की रिपोर्ट पॉझीटीव पायी गई है. उक्त व्यक्ति मुंबई से मॅटेडोर से 15 मई को 18 लोगों के साथ चामोर्शी में दाखिल हुआ था. उसे मार्कंडादेव के आश्रमस्कूल में क्वारंटाईन् किया गया था. कोरोना बाधित मरीज के संपर्क में आए लोगों की तलाश प्रशासन कर रहा है. ऐसी जानकारी तहसीलदार संजय गंगथडे ने दी है. विगत 50 दिनों तक गडचिरोली जिले ने ग्रीन झोन का अस्तीत्व कायम रखा था. मात्र लॉकडाऊन के चौथे चरण की घोषण होने के बाद जिले में एक समय में ही 5 कोरोना पॉझीटीव मरीज पाए जाने से जिले के नागरिकों में दहशत का वातावरण निर्माण हुआ है.

नागरिक घबराएं नहीं
सिंगलाजिले में कोरोना बाधित मरीज पाए जाने से जिला प्रशासन अधिक सतर्क हुआ है. जिले के नागरिक घबराएं नहीं. जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग व पुलिस प्रशासन इनकी तत्काल बैठक लेकर अमल पर चर्चा की गई है. रेड झोन से आनेवाले लोगों के संदर्भ में प्रशासन ने अधिक सतर्कता बरती है. बाहर से आनेवाले नागरिक प्रशासन को सुचित कर सहयोग करने पर गडचिरोली जिले को फिर से ग्रीन झोन में लाया जाएगा. ऐसी बात जिलाधिकारी दिपक सिंगला ने कहीं है.

सपर्क में आनेवालों की खोज जारी
जिले में 5 कोरोना पॉझीटीव मरीज पाए जाने से जिला प्रशासन अधिक सतर्क हुआ है. उक्त बाधित मरीज के संपर्क में आनेवाले लोगों की खोजबिन करने में प्रशासन लगा हुआ है. बाहर से आने के बाद कोरोना बाधित किस किसके संपर्क में आए थे, इसकी जानकारी लेना शुरू है. कोरोना बाधित मरीज रेड झोन से जिले में दाखिल होने से सफर के दौरान अनेकों के संपर्क में आए. जिससे कोरोना बाधित मरीजों की संख्या बढने की संभावना व्यक्त की जा रही है. इन मजदूरों में जिले के मजदूरों के साथ ही अन्य जिलों के भी मजदूर साथ में सफर करने की जानकारी है.

क्वारंटाईन परिसर सील
कुरखेडा व चामोर्शी के जिन क्वारंटाईन सेंटर पर कोरोना बाधित मरीज पाए गए उक्त क्वारंटाईन परिसर पुलिस प्रशासन द्वारा सील किए जाने की जानकारी है. चामोर्शी के मार्कंडादेव के आश्रमस्कूल सेंटर परिसर में पुलिस का कडा बंदोबस्त लगाया गया है. वहीं कुरखेडा के क्वारंटाईन के अन्य लोगों को गडचिरोली के जिला अस्पताल के क्वारंटाईन कक्ष में भेजा गया है. वहीं परिसर से लगत होनेवाले बुरूड मुहल्ले में एक संदिघ्न पाए जाने से यह परिसर पुलिस ने सील करने की जानकारी है.

35 नमुनों की रिपोर्ट आना बाकी
जिले में आज सोमवार तक कुल 344 नमुने जांच के लिए भेजे थे. आज कुल 15 नमुने जांच हेतु लिए गए. इनमें से 305 नमुनों की रिपोर्ट निगेटीव आयी है. अबतक 34 नमुनों की रिपोर्ट आनी बाकी है. अब 39 व्यक्ति निगरानी में है. उन्हे अस्पताल में क्वारंटाईन किया गया है. ऐसी जानकारी स्वास्थ्य विभाग द्वारा दी गई है.