दिल्ली में निर्माण कार्य के गतिविधियों पर रोक रहेगी जारी, 7  दिसंबर तक ट्रकों को भी अनुमति नहीं

    नई दिल्ली: दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय (Gopal Roy) ने कहा कि राजधानी में प्रदूषण (Delhi Pollution) के स्तर पर को देखते हुए 7 दिसंबर तक आवश्यक सेवाओं को छोड़कर ट्रकों के प्रवेश पर प्रतिबंध जारी रखेगी। वहीं ई-ट्रकों और सीएनजी ट्रकों को प्रवेश करने की अनुमति दी जाएगी।

    गोपाल राय ने कहा कि राजधानी में निर्माण और विध्वंस गतिविधियों पर अगले आदेश तक रोक जारी रहेगी।  “सभी निर्माण श्रमिकों को 5,000 प्रत्येक दिए जाएंगे” वहीं “गैर-प्रदूषणकारी निर्माण गतिविधियों जैसे प्लंबिंग कार्य, आंतरिक सजावट, विद्युत कार्य और बढ़ईगीरी की अनुमति दी जाएगी।”  मंत्री ने कहा कि दिल्ली 18 दिसंबर तक वाहनों के प्रदूषण से निपटने के लिए ‘रेड लाइट ऑन, गाड़ी ऑफ’ की प्रथा का पालन करना जारी रखेगी।

    बता दें कि शहर के कई हिस्सों में वायु गुणवत्ता सूचकांक में सुधार नहीं होने के कारण दिल्ली को लगातार नुकसान उठाना पड़ रहा है। मुंडका, वजीरपुर, एनएसआईटी द्वारका, अशोक विहार, जहांगीरपुरी, आरके पुरम और जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम- इन इलाकों में वायु गुणवत्ता ‘गंभीर’ श्रेणी में रही है। वहीं अधिकांश क्षेत्रों में एक्यूआई ‘बहुत खराब’ या ‘खराब’ श्रेणी में रहा है।

    गौरतलब है कि दिल्ली में सोमवार से स्कूल, कॉलेज व अन्य शिक्षण संस्थानों के साथ-साथ सरकारी दफ्तर भी खुल गए हैं। वहीं सरकार ने शहर के 14 क्षेत्रों में सरकारी आवासीय कॉलोनियों से अपने कर्मचारियों को लाने-ले जाने के लिए विशेष बस सेवा भी शुरू की है।