2013 Shakti Mills gang rape: Bombay High Court gave verdict, life imprisonment to three accused, sets aside death penalty
File

    मुंबई: साल 2013 के शक्ति मिल गैंगरेप केस (2013 Shakti Mill Gang Rape) में बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) ने फैसला सुनाया है। हाईकोर्ट ने तीन आरोपियों की फांसी की सजा को उम्रकैद (Death Sentence) में तब्दील करते हुए फैसला सुनाया है। दरअसल फांसी की सजा की मंजूरी के लिए राज्य सरकार की याचिका पर बॉम्बे हाई कोर्ट ने फैसला सुनाया है। 

    बता दें कि मुंबई सेशन कोर्ट ने अप्रैल 2014 को मामले के तीन आरोपियों को फांसी की सजा सुनाई थी। तीन आरोपियों में विजय जाधव, कासिम बंगाली और सलीम अंसारी शामिल हैं। मुंबई के महालक्ष्मी इलाके में मौजूद शक्ति मिल में साल 2013 में हुए गैंगरेप के 2 मामले में मुंबई क्राइम ब्रांच ने आरोपियों को मुंबई के अलग-अलग इलाकों से अरेस्ट किया था।

    बता दें कि, एक महिला फोटोग्राफर जर्नलिस्ट और एक टेलीफोन ऑपरेटर से गैंगरेप केस में आरोपियों की गिरफ्तारी की गई थी। फोटो जर्नलिस्ट के केस में पुलिस ने 5 आरोपी को गिरफ्तार किया था। इनमें 1 नाबालिग शामिल था। वहीं टेलीफोन ऑपरेटर मामले में भी 5 आरोपी हैं जिसमें 1 नाबालिग है।