Medical drivers refrain from selling drugs, otherwise their license will be cancelled: CP Dr. Nikhil Gupta

    औरंगाबाद : शहर में युवक (Youths) बड़ी संख्या में नशे  में लिप्त हो रहे हैं। उसका मुख्य कारण शहर के कुछ मेडिकल धारक (Medical Holders) चोरी से नशे की गोलियां (Drug Pills) बेच रहे है। उन मेडिकल चालकों पर पुलिस की कड़ी नजर है। जो मेडिकल चालक नशे की गोलियां बेचते हुए पाया जाएगा, उसके खिलाफ सख्त कानूनी कार्यवाही की जाएगी। यह चेतावनी शहर के पुलिस कमिश्नर (City Police Commissioner) डॉ. निखिल गुप्ता (Dr. Nikhil Gupta) ने दी।

    शहर के कुछ इलाकों में बड़े पैमाने पर नशे का कारोबार धड़ल्ले से  चल रहा है। अवैध रुप से कुछ लोग नशे की गोलियां बेचने के साथ ही कुछ मेडिकल चालक भी नशे की गोलियां बेचकर युवकों का जीवन बरबाद कर रहे है। इसके रोकथाम  के लिए शहर के सीपी डॉ. गुप्ता ने गुरुवार को सीपी कार्यालय में मुस्लिम धर्मगुुरुओं के साथ एक बैठक की। जिसमें शहर के उलेमा उपस्थित थे। बैठक में सीपी डॉ. गुप्ता ने शहर में नशे की दवाईयों के बढ़ते कारोबार चिंता जताते हुए कहा कि मैंने खुद इस मामले को गंभीरता से लिया है। जो मेडिकल चालक नशे की गोलियां बेचते हुए पाया जाएगा  उसे हम फूड एंड ड्रग्ज विभाग से मिलकर  लाइसेंस रदद करवायेंगे।

    पोस्ट की सच्चाई जानने के लिए पुलिस से संपर्क करें

    सीपी ने कहा कि मेडिकल चालक डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के बिना आम आदमी को नींद की सादी गोली भी नहीं देते। फिर शहर में नशे की गोलियां कारोबार कैसा पनप रहा है ? इस पर खुद सीपी डॉ. गुप्ता ने चिंता जताकर साफ कहा कि पुलिस प्रशासन ने इसके रोकथाम के लिए सख्त कदम उठाने शुरु किए है। सोशल मीडिया पर आनेवाले पोस्ट की सच्चाई जानने के लिए पुलिस से संपर्क करें। 

    हम सबको सतर्क रहने की जरुरत है

    सीपी ने कहा कि पहले लोग एक दूसरे के नजदीक जाकर कुछ जानकारीयां शेयर करते थे। लेकिन, आज लोगों को घर बैठे सोशल मीडिया के माध्यम से गलत पोस्ट करने का बड़ा आसान प्लेटफार्म  उपलब्ध हुआ है। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर आनेवाले अधिक तर पोस्ट झूठे और उकसाने वाले होते है। जो पोस्ट आती है, उस पर विश्वास न करते हुए उसकी सच्चाई जानने के लिए  पुलिस से संपर्क करें। हम उसकी असलियत बताएंगे। सीपी ने त्रिपुरा में न हुई घटनाओं को लेकर सोशल मीडिया पर फैलाई गई  गलत पोस्ट की ओर इशारा करते हुए कहा कि गलत घटना होने पर उस पर गुस्सा जायज है। लेकिन, जो घटनाएं हुई ही नहीं, ऐसे घटनाओं के गलत वीडियो और पोस्ट डालकर लोगों को उकसाया जाता है। इस पर हम सबको सतर्क रहने की जरुरत है। 

    सब समुदाय के धर्मगुुरुओं का बनाया जाएगा वॉटसग्रुप 

    सीपी ने कहा कि शहर में अमन चैन बराकरार रखने के अलावा सभी समाज में सौहार्द पुर्ण माहौल बनाए रखने के लिए सभी समुदाय के धर्मगुरुओं के साथ जल्द ही एक और  बैठक आयोजित की जाएगी। साथ ही सभी समाज के धर्मगुरुओं का एक वॉटसग्रुप बनाकर पुलिस अधिकारी हमेशा उनसे संपर्क में रहेंगे। 

    पुलिस को होती है सारी जानकारी, मौलाना ने कसा तंज 

    इससे पूर्व बैठक में अपने विचार रखते हुए मौलाना नसीमोददीन मिफ्ताही ने कहा कि शहर के बायजीपुरा में जिस तरह नशे का कारोबार जारी है, उसी तरह मुकुंंदवाडी में भी अवैध शराब बड़े पैमाने पर बिकती है। गली गली में चोरी से देर रात नशे के दवाईयों की पुड़ियां बेची जा रही है। इसकी सारी जानकारी पुलिस को होती है। यह कहकर मौलाना नसीमोददीन ने पुलिस पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि  इस पर विशेष ध्यान देने की जरुरत है। जो लोग इस धंधे में लिप्त उन पर पुलिस प्रशासन द्वारा सख्त कार्रवाई करने की मांग मौलाना नसीमोददीन मिफ्ताही ने की।