The anniversary of Aurangabad Municipal Corporation was celebrated with simplicity by organizing various undertakings

    औरंगाबाद : कोविड महामारी (Covid Pandemic) के चलते औरंगाबाद महानगरपालिका (Aurangabad Municipal Corporation) ने अपना 39वां वर्धापन (Anniversary) दिन इस साल भी सादगी से मनाया। वर्धापन दिन के उपलक्ष्य में शहर के महापुरुषों के प्रतिमाओं को महानगरपालिका के आला अधिकारियों ने अभिनंदन किया। इसके अलावा शहर के सभी 9 जोन (Zones) में प्लास्टिक का करीब 3 टन 211 किलो कचरा जमा किया गया। साथ ही महानगरपालिका (Municipal Corporation) के अधिकारियों और कर्मचारियों को टीके (Vaccine) लगाए गए।

    बुधवार की सुबह महानगरपालिका कमिश्नर आस्तिक कुमार पांडेय के हाथों महानगरपालिका मुख्यालय में छत्रपति शिवाजी महाराज के प्रतिमा को पुष्पमाला अर्पित कर अभिवादन किया गया। इस अवसर पर माहनगरपालिका के अतिरिक्त आयुक्त बीबी नेमाने, रविन्द्र निकम, उपायुक्त सौरभ जोशी, अपर्णा थेटे, मुख्य लेखाधिकारी संतोष वाहुले, मुख्य लेखापरीक्षक दे का हिवाले, कार्यकारी अभियंता बीडी फड, एसडी काकडे, उद्यान अधीक्षक विजय पाटिल, वार्ड अभियंता काटकर, सहायक आयुक्त विक्रम दराडे, संजय सुरडकर, सांस्कृतिक अधिकारी संजीव सोनार, पीआरओ सैयद तौसिफ अहमद के अलावा बड़ी संख्या में कर्मचारी उपस्थित थे।  

    प्लाग रन 3 टन से अधिक कचरा जमा 

    उधर, माहनगरपालिका के वर्धापन दिन के उपलक्ष्य में कमिश्नर आस्तिकव् कुमार पांडेय के आदेश पर और घनचकरा विभाग प्रमुख और उपायुक्त सौरभ जोशी के मार्गदर्शन में शहर के सभी 9 जोन अंतर्गत मुख्य रास्ते पर जमा प्लास्टिक सहित अन्य सूखा कचरा जमा किया गया। उपायुक्त जोशी ने बताया कि शहर के सभी 9 प्रभागों से करीब 3 टन 211 किलो कचरा जमा किया गया। जमा कचरे को पुनप्रक्रिया के लिए पडेगांव में स्थित कचरा प्रक्रिया केंद्र पर भेजा गया है। सफाई अभियान में महानगरपालिका के सभी वार्ड अधिकारी, सफाई निरीक्षक, जवान, सफाई मजदूर आदि ने हिस्सा लिया।

    महानगरपालिका अधिकारियों और कर्मचारियों की स्वास्थ्य जांच 

    महानगरपालिका मुख्यालय में प्रशासक पांडेय के आदेश पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. पारस मंडलेचा के मार्गदर्शन में महानगरपालिका अधिकारी, कर्मचारी, सफाई कामगार, मलेरिया मजदूरों के  स्वास्थ्य की जांच की गई। जिसमें  255 अधिकारी और कर्मचारियों की स्वास्थ्य जांच किए जाने की जानकारी डॉ. मंडलेचा ने दी। इसमें 206 पुरुष और 49 महिलाएं शामिल है। जांच शिविर में खून की सीबीसी, एचबीए, शुगर, एचआईवी, कोविड आरटीपीसीआर आदि टेस्ट किए गए। वहीं, 25 अधिकारी और कर्मचारियों की ईसीजी निकाली गई। जांच शिविर को सफल बनाने स्वास्थ्य दल प्रमुख डॉ. मनीषा भोंडवे, डॉ. अंजली पाथरीकर, डॉ. अर्चना राणे, डॉ. मेघा जोगदंड, डॉ. बीडी राठोडकर, डॉ. उज्जवला भांबरे, जिला सामान्य अस्पताल के डॉ. संजय वरहाडे, यूनाईटेड सिग्मा हॉस्पिटल के डॉ. प्रवीण जाधव ने हिस्सा लिया।