farmer
File Photo

Loading

भंडारा. नई कृषि तकनीक के माध्यम से आय बढ़ाने के लिए कृषि विभाग के माध्यम से राज्य के किसानों का अध्ययन भ्रमण आयोजित किया जाएगा. इसके लिए इच्छुक किसानों से अपना आवेदन 3 फरवरी तक तहसील कृषि अधिकारी कार्यालय में जमा कराने का अनुरोध जिला अधीक्षक कृषि अधिकारी संगीता माने ने किया है. सरकार वर्ष 2023-24 में देश के बाहर जिले में किसानों के अध्ययन दौरे आयोजित करने के लिए कुल लागत का 50 प्रतिशत या अधिकतम एक लाख रुपये प्रति लाभार्थी, जो भी कम हो, सब्सिडी प्रदान करेगी. 

फ्रांस, स्पेन, स्विट्जरलैंड

कृषि विस्तार कार्यक्रम के भाग के रूप में इस योजना के तहत जर्मनी, फ्रांस, स्पेन, स्विट्जरलैंड, ऑस्ट्रिया, न्यूजीलैंड, नीदरलैंड, वियतनाम, मलेशिया, थाईलैंड, पेरू, ब्राजील, चिली, ऑस्ट्रेलिया, सिंगापुर आदि देशों का चयन किया गया है. अध्ययन दौरे के लिए लाभार्थी किसान स्वयं होना चाहिए, जिसके पास वर्तमान अवधि की 7-12 और 8-ए प्रति होनी चाहिए. आवेदन के साथ स्व-घोषणा पत्र (फॉर्म 1) जमा करना होगा कि, कृषि किसान की आय का मुख्य स्रोत है. इस योजना का लाभ किसान परिवार से केवल एक ही व्यक्ति उठा सकता है. 

टूर पूरा होने पर मिलेगी सब्सिडी

किसानों को अपने बैंक खाते को आधार नंबर से लिंक कराना होगा. चयन के बाद टूर की लागत का 100 प्रतिशत ट्रैवल कंपनी को अग्रिम भुगतान करना होगा और टूर पूरा होने के बाद सब्सिडी की राशि खाते में जमा कर दी जाएगी. प्रत्येक जिले से तीन किसानों का चयन किया जाएगा और अधिक आवेदन जारी किए जाएंगे.

यह दस्तावेज जरुरी

-आवेदन के साथ आधार फॉर्म की एक प्रति जमा करनी होगी. किसान को कम से कम 12वीं पास होना चाहिए. 

-किसानों की आयु 25 से 60 वर्ष होनी चाहिए. किसान चिकित्सा प्रमाण पत्र धारक होना चाहिए.

-किसान किसी सरकारी, अर्धसरकारी, सहकारी अथवा निजी संस्था में कार्यरत नहीं होना चाहिए. 

-साथ ही डॉक्टर, वकील, सीए, इंजीनियर, मेडिकल क्षेत्र में ठेकेदार नहीं होना चाहिए. 

 -दौरे के लिए चयन पत्र प्राप्त करने के बाद, किसान को एक चिकित्सा प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा.