सीईओ ने समझी दुर्गम क्षेत्र की समस्या – भागरागढ तहसील में दी भेट

भामरागढ: जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी कुमार आशीर्वाद ने अतिदुर्गम भामरागढ तहसील में 18 व 19 दिसंबर को भेट देकर इस क्षेत्र की विभीन्न समस्याएं समझी. सीईओ आशीर्वाद ने अंगणवाडी केंद्र मेडपल्ली में वीएचएसएनडी कार्यक्रम को भेट दी. इस समय उन्होने कुपोषण के संदर्भ में अंगणवाडी सेविकां को मार्गदर्शन किया.

कुपोषित बच्चों की माता, गर्भवति माता इन्हे आईसीडीएस की सेवा संदर्भ में पुछताच की. इसके पश्चात धोंडराज के प्राथमिक स्वास्थ्य उपकेंद्र को भेट देते हुए लाहेरी के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में जांच की. वहीं अंगणवाडी केंद्र को भेट दी. व लाहेरी के नागरिकों की समस्याएं समझी. 

मल्लमपोडूर व धोंडराज से राणीपोडूर में स्तनदा मातांओं की गृहभेटी लेकर उनहे स्वास्थ्य सेवा संदर्भ में पुछताच की. शाम को 6.30बजे ग्रामीण अस्पताल भामरागढ के स्वास्थ्य सेवा, सुविधाओं का निरीक्षण किया. तहसील स्वास्थ्य अधिकारी इनके कार्यालय में जांच की. 19 दिसंबर को सुबह 8 बजे राणीपोडूर इस जगह गांव सभा लेकर गांव की समस्याएं समझी.

वहीं शिवारफेरी निकाली गई. अंगणवाडी, स्कूल, सार्वजनिक कुंए, घरकुल, क्रीडांगण का निरीक्षण किया.केली. राणीपोडूर समिपस्य पामुलगौतमी नदी का निरीक्षण किया. इसके पश्चात हेमलकसा में भेट देकर दोपहर 1 बजे कुमरगुडा ग्रामीणों की सभा ली. 

आदिम संस्कृति जतन केंद्र व महिला विसावा केंद्र का निरीक्षण किया. इस दौरान कुमरगुडा गांव में तालाब का भी निरीक्षण किया. इसके पश्चात फुलोरा प्रशिक्षण केंद्र को भेट दी. दोपहर के दौरान पंचायत समिति में ग्रामसेवक, पंचायत समिति अधिकारी, कर्मचारियों की जायजा सभा ली. इसके पश्चात ताडगाव में अंगणवाडी सेविका व मुख्य सेविका इनकी बैठक लेकर आईसीडीएस कार्यो का जायजा लिया.