Water Crisis
File Photo

    आरमोरी. आरमोरी तहसील के मोहझरी ग्रामपंचायत अंतर्गत नलयोजना क्रियांन्वित की गई है. किंतू बिते 3 से 4 माह से नल को पानी नहीं आने से ग्रामीणों को पानी के लिए भटकने की नौबत आयी है. जिससे ग्रापं प्रशासन के खिलाफ नागरिकों द्वारा रोष व्यक्त किया जा रहा है. 

    मोहझरी ग्रापं अंतर्गत नागरिकों को पेयजल की सुविधा उपलब्ध हो, इसके लिए वर्ष 2014-15 में नल योजना क्रियांन्वित की गई. गांव के करीबन 200 घरों में नल कनेक्शन दिया गया. जिससे शुद्ध व आवश्यक मात्रा में जलापूर्ति होने की आंस ग्रामीणों को थी. किंतू भरे धूपकाले में उक्त नल योजना में बिघाड निर्माण होने से नागरिकों को पानी के लिए भटकना पड़ रहा है.

    फिलहाल तापमान में वृद्धि हो रही है. जिससे पानी की काफी आवश्यकता होती है. किंतू नल योजना ठप्प होने से पानी कहां से लाए ? ऐसा सवाल ग्रामीणों द्वारा पुछा जा रहा है. नल योजना के समस्रूा संदर्भ में जीवन प्राधिकरण विभाग के अधिकारियों को समय समय पर बिनती करने के बावजूद अनेदखी की जा रही है. वहीं ग्रामपंचायत प्रशासन की ओर ग्रामसभा के माध्यम से मौखिक व लिखित शिकायत करने के बावजूद भी अनदेखी की जा रही है. जिससे नल योजना दुरूस्त कर जलापूर्ति करने की मांग ग्रामीणों ने की है. 

    अन्यथा करेंगे तीव्र आंदोलन 

    मोहझरी की नल योजना बिते 3 से 4 माह से बंद होने के कारण नागरिकों को अकारण परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. पानी की समस्या की ओर समय समय पर संबंधित विभाग का ध्यानाकर्षण करने के बावजूद भी अनेदखी की जा रही है. जिससे ग्रामीणों द्वारा रोष व्यक्त किया जा रहा है. आगामी 8 दिनों के भितर जलापूर्ति शुरू न होने पर ग्रामपंचायत के खिलाफ तीव्र आंदोलन करने की चेतावनी भी ग्रामीणों ने दी है. 

    नल योजना के कुए में अल्प पानी होने के कारण अभियंता की ओर प्रस्ताव भेजा है. आगामी 2 से 3 दिनों में प्रस्ताव मंजूर होने के बाद कुए में बोअर मारकर जलापूर्ति शुरू की जाएगी.

    मयूर कोडाप, सरपंच, ग्रापं मोहझरी