जमिन का स्तर देखकर फसलों का चयन करे – केंद्रीय सदस्य संचालक सिंग ने किसानों को दिया मशवरा

  • दुसरे दिन भी केंद्रीय दल ने दिए बाढग्रस्त गांवों को भेट 

गड़चिरोली. केंद्रीय दल ने निरंतर दुसरे दिन जिले के कुछ गांवों को भेट देकर बाढ प्रभावित क्षेत्रों का प्रत्यक्ष निरीक्षण करते हुए किसानों से सिधे संवाद किया. इस समय कृषी मंत्रालय के केंद्रीय दल के सदस्य संचालक आर. पी. सिंग ने जमिन का स्तर देखकर फसलों की बुआई करने का मशवरा किसानों को दिया है.

शुक्रवार 25 दिसंबर को केंद्रील दल के विभीन्न 3 दस्ते ने जिले के कनेरी, पारडी, वसा, पोर्ला, लाडज इन गांवों के बाढग्रस्त क्षेत्रों का निरीक्षण किया. इस समय दल के सदस्यों ने प्रत्यक्ष खेतों पर जाकर किसानों से सिधे संवाद करते हुए नुकसान के संदर्भ में चर्चा की. इस समय किसानों को मशवरा देते हुए केंद्रीय संचालक आर. पी. सिंग ने आगे कहां कि, वातावरण व जमिन का स्तर यह किसी भी फसलों के लिए महत्वपूर्ण होता है. धान फसलों के साथ गडचिरोली जिले में करडई, चना तथा वटाणा ऐस फसलों का भी चयन किया जा सकता है. जिससे किसान जमिन का उचित स्तर देखकर फसलों का चयन करने का आह्वान किया. 

आज किसानों के प्रत्यक्ष भेट के दौरान दल में आर. पी. सिंग इनके साथ केंद्रीय कार्यालय नागपूर के अधिक्षक अभियंता महेंद्र सहारे, रमेशकुमार गंटा, आर. बी. कौल इनका समावेश है. इस समय जिलाधिकारी दीपक सिंगला ने केंद्रीय दल को जानकारी दी. केंद्रीय दल ने कनेरी गांव के गजानन पाणनकर इा किसान से चर्चा करते हुए कपास फसलों के नुकसान का निरीक्षण किया. पारडी इस गांव के शोभा बोकडे इस किसान के बाढग्रस्त क्षेत्र का भी मुआयना किया. गोगांव के सडक से सटे खेतों में बाढ की स्थिती के पश्चात नए से बुआई किए गए करडई इन फसलों का निरीक्षण कर वहां के किसानों से संवाद किया. अंत में वसा के कुमरे के खेत में धान कटाई के पश्चात के परिस्थितीयों का प्रत्यक्ष निरीक्षण किया. इस समय किसानों ने हुए नुकसान के परिस्थिती संदर्भ में दल के सदस्यों को जानकारी दी. 

बाजार समिति को दी भेट

संचालक कृषि मंत्रालय आर. पी. सिंग ने कृषि उपज बाजार समिती, गडचिरेाली में भेट देकर धान खरीदी प्रक्रिया का अवलोकन किया. इस समय बाढग्रस्त क्षेत्र से धान बिक्री करने आए किसानों से संवाद किया. धान खरीदी केंद्र पर की प्रक्रिया समझते हुए धान की गुणवत्ता व किसानों को दिया जानेवाला मुआवजा इस संदर्भ में दल के सदस्यों ने जानकारी ली. इस समय कृषि उपज बाजार समिति के प्रशासक चंद्रशेखर भडांगे व कुमरे ने समिति के कामकाज के संदर्भ में जानकारी दी. इस दस्ते के साथ तहसीलदार महेंद्र गणवीर, नेहरु युवा केंद्र के संदिप कराले, आपदा प्रबंधन अधिकारी कृष्णा रेड्डी उपस्थित थे.