किसानों की मांगों को लेकर भाजपाई उतरे सड़क पर, जिला कचहरी पर दी दस्तक

    गड़चिरोली. किसानों की विभिन्न मांगों को लेकर गड़चिरोली विस क्षेत्र के विधायक डा. देवराव होली के नेतृत्व में भाजपा पदाधिकारी सड़क पर उतर गये. वहीं जिलाधिश कार्यालय पर मोर्चा निकाला. इस मोर्चे के दौरान राज्य सरकार को किसान विरोधी सरकार होने का आरोप लगाते हुए सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई. वहीं जिलाधिश कार्यालय पर मोर्चा निकालने के बाद जिलाधिश को किसानों की विभिन्न मांगों का ज्ञापन सौंपा गया.

    आंदोलन में विधायक डा. देवराव होली, भाजपा जिलाध्यक्ष किसन नागदेवे, पंस सभापति मारोतराव इचोड़कर, उपसभापति विलास दशमुखे, प्रकाश गेड़ाम, महिला जिलाध्यक्ष योगिता भांडेकर, नप उपाध्यक्ष अनिल कुनघाड़कर, सभापति मुक्तेश्वर काटवे, केशव निंबोड़ समेत बड़ी संख्या में भाजपा पदाधिकारी और कार्यकर्ता समेत किसान उपस्थित थे. 

    किसानों की मांगों को लेकर सरकार गंभीर नहीं: डा. होली

    मोर्चे के दौरान विधायक डा. होली ने कहां कि, राज्य के किसानों पर अनेक आपदाएं आयी है. ऐसे स्थिति में किसानों को राहत देने के बजाय राज्य सरकार किसानों के कृषिपंपों का बिजली कनेक्शन काटकर उनके जख्मों पर नमक लगा रही है. धान को मिलनेवाला बोनस इस बार नहीं दिया जा रहा है. हाल ही में हुई अकाली बारिश के चलते किसानों का भारी नुकसान हुआ है. लेकिन अब तक किसी भी प्रकार की मुआवजा देने संदर्भ में सरकार द्वारा घोषणा नहीं की गई है. जिससे महाविकास आघाड़ी सरकार किसानों की मांगों को लेकर गंभीर नहीं होने का आरोप विधायक डा. होली ने लगाया है. 

    इन मांगों का है समावेश 

    अकाली बारिश से नुकसान हुए फसलों का पंचनामा कर नुकसानग्रस्त किसानों को मुआवजा देने, किसानों के कृषिपंपों का बिजली कनेक्शन काटनेवाले अधिकारी व कर्मचारियों पर कार्रवाई करने, जिले में तत्काल धान खरीदी केंद्र शुरू करने, किसानों को बोनस देने समेत विभिन्न मांगों का समावेश है. उक्त मोर्चा दोपहर 2 बजे स्थानीय इंदिरा गांधी चौक से निकलकर जिलाधिश कार्यालय पर पहुंचा. 

    सरकार के खिलाफ घोषणाबाजी 

    राज्य के किसान पुरी तरह वित्तीय संकट में पड़ गये है. लेकिन महाविकास आघाडी सरकार किसानों को राहत देने के लिये किसी भी तरह की उपाययोजना नहीं कर रही है. जिसके कारण किसानों में राज्य सरकार के प्रति तीव्र नाराजगी होकर अब किसान भाजपा के नेतृत्व में सड़क पर उतर रहे है. ऐसा आरोप लगाते हुए भाजपा पदाधिकारियों ने मोर्चे के दौरान राज्य सरकार के खिलाफ जमकर घोषणाबाजी की.