Policeman hit couple with vehicle, case registered

    सटाणा. महात्मा गांधी विद्या मंदिर (Mahatma Gandhi Vidya Mandir) शिक्षा संस्था में नौकरी (Job) लगाने का लालच देकर 28 लाख रुपए ठगने (Fraud) का मामला सामने आया है। इस मामले में सटाणा पुलिस ने विनोद देवरे द्वारा दर्ज की गई शिकायत के आधार पर महात्मा गांधी विद्या मंदिर संस्था के पदाधिकारी तथा पूर्व विधायक अपूर्व हिरे सहित 4 के खिलाफ मामला दर्ज करते हुए एक संदेहात्मक आरोपी को गिरफ्तार (Arrested) किया है, जिसे 29 मार्च तक पुलिस हिरासत में रखने के आदेश न्यायालय ने दिए।

    बताते हैं कि पूर्व विधायक अपूर्व हीरे, आदित्य पुतानपुरे, लंकेश मिस्त्री, प्रवीण देवरे आदि ने विनोद देवरे और उनकी भाई की पत्नी मोहिनी देसले को महात्मा गांधी विद्यामंदिर मालेगांव या नाशिक में शिक्षक पद पर नौकरी देने का लालच दिया। इसके लिए नाशिक स्थित पंचवटी कॉलेज में 3 मार्च 2017 को संदेहात्मक आरोपियों ने शिकायतकर्ता से पैसे की मांग की। इसके बाद देवरे ने 21 लाख 50 हजार रुपए अलग-अलग बैंक खाता में जमा किए। साथ ही 6 लाख 50 हजार रुपए नकद दिए। पिछले चार सालों से यह सिलसिला शुरू था, लेकिन न ही नौकरी मिली और न ही पैसे वापस दिए। 

    एक संदेहात्मक आरोपी गिरफ्तार

    इसके बाद देवरे ने सटाणा पुलिस थाना में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने एक संदेहात्मक आरोपी को गिरफ्तार किया है, जिसे न्यायालय ने 29 मार्च तक पुलिस हिरासत में रखने के आदेश दिए। सटाणा पुलिस थाना के पुलिस निरीक्षक नंदकुमार गायकवाड़ जांच कर रहे है। उन्होंने इस बारे में पूर्व विधायक अपूर्व हीरे से संपर्क करने का प्रयास किया, लेकिन कुछ लाभ नहीं हुआ।