Construction work of Sus-Mahalunge will not be affected - Corporator Amol Balvadkar assured

    पुणे. महानगरपालिका सिमा में हाल ही में 23 गाँवों का समावेश किया गया है। इसमें सुस महालुंगे गाँव (Sus Mahalunge Village) का भी समावेश है। इन गाँवों के विकास प्रारूप बनाने का जिम्मा सरकार ने पुणे महानगर क्षेत्र विकास प्राधिकरण (Pune Metropolitan Region Development Authority) (पीएमआरडीए) पर सौंप दिया है। किसी भी हाल में गाँवों के निर्माण कार्य प्रभावित नहीं होंगे, इस पर ध्यान दिया जाएगा। ऐसा भरोसा नगरसेवक (Corporator) अमोल बालवडकर ने दिलाया।  

    आपत्ति सुझाव के लिए मार्गदर्शन 

    इस बारे में बालवडकर ने कहा कि महालुंगे और सूस के निवासियों के लिए पीएमआरडीए ने प्रस्तावित मसौदे पर आपत्तियां और सुझाव देने के लिए बानेर में मेरे जनसंपर्क कार्यालय में एक मार्गदर्शन बैठक की। सूस और महलुंगे के कई आम नागरिकों ने मेहनत से वहां अपना घर बना लिया है। लेकिन कई चीजों ने आम नागरिकों में भय का माहौल बना दिया है। ऐसे में एक जन प्रतिनिधि के रूप में मैंने आज यहां इन सभी नागरिकों को उचित कानूनी मार्गदर्शन देने की पूरी कोशिश की है।

    बालवडकर ने उन्हें आश्वासन दिया है कि “हमारा कोई भी निर्माण प्रभावित नहीं होगा और आप सभी के लिए, मैं पीएमआरडीए के बीच समन्वय करूंगा कि राज्य सरकार और नगर निगम उचित न्याय दे। बालवडकर ने कहा कि साथ ही इस अवसर पर अधिवक्ता पांडुरंग थोर्वे ने उपस्थित सभी नागरिकों को बहुत अच्छा कानूनी मार्गदर्शन दिया और नागरिकों की कई शंकाओं का समाधान किया।  

    कई चीजों ने आम नागरिकों में भय का माहौल बना दिया है। ऐसे में एक जन प्रतिनिधि के रूप में मैंने आज यहां इन सभी नागरिकों को उचित कानूनी मार्गदर्शन देने की पूरी कोशिश की है। उन्हें आश्वासन दिया है कि हमारा कोई भी निर्माण प्रभावित नहीं होगा और आप सभी के लिए, मैं सरकार पीएमआरडीए और महानगरपालिका के बीच समन्वय करूंगा।

    - अमोल बालवडकर, नगरसेवक