Kirit Somaiya

    पिंपरी: पिंपरी-चिंचवड़ महानगरपालिका (Pimpri-Chinchwad Municipal Corporation) में सत्तारूढ़ भाजपा (‍BJP) ने स्मार्ट सिटी (Smart City) के नाम पर करोड़ों रुपए का भ्रष्टाचार (Corruption) किया है। भाजपा नेता किरीट सोमैया (Kirit Somaiya) को महाविकास आघाड़ी सरकार के मंत्रियों पर आरोप लगाने की बजाय महानगरपालिका में शुरू इस भ्रष्टाचार पर भी ध्यान देना चाहिए। शिवसेना (Shiv Sena) जिला संपर्क प्रमुख सचिन अहीर (Sachin Ahir) ने पिंपरी-चिंचवड़ में सोमैया को खुलेआम चुनौती दी कि महानगरपालिका भ्रष्टाचार को खत्म कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की हिम्मत दिखाएं।

    चिखली के साने चौक में पधारे शिवसेना नेता सचिन अहिर का नेताजी काशिद और साधना काशिद की ओर से 25 फीट पुष्पहार से अनोखा स्वागत किया। इसके बाद हुई सभा में उन्होंने भाजपा द्वारा पिंपरी-चिंचवड़ महानगरपालिका में जारी भ्रष्टाचार पर हमला बोलते हुए पूर्व सांसद किरीट सोमैया को उपरोक्त चुनौती दी। 

    केंद्र सरकार ने नहीं की मदद

    सचिन अहीर ने कहा कि दो साल में महामारी कोरोना, लॉकडाउन, बेमौसम बारिश, बाढ़ जैसी कई विपदाएं महाराष्ट्र में आई। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के नेतृत्ववाली महाविकास आघाडी सरकार ने इन संकटों का संयम और मजबूती से सामना किया। मगर विपदा की घड़ी में केंद्र सरकार ने महाराष्ट्र को किसी तरह की कोई मदद नहीं की।  

    दो हजार लोगों के हस्ताक्षर युक्त ज्ञापन सौंपा गया

    इस सभा में अहिर को शिवसेना की मोरे बस्ती शाखा की ओर से महानगरपालिका में सत्तारूढ़ भाजपा द्वारा किए गए भ्रष्टाचार के खिलाफ दो हजार लोगों के हस्ताक्षर युक्त ज्ञापन सौंपा गया। इस मौके पर शिवसेना उपनेता शिवाजी आढलराव पाटील, शहरप्रमुख सचिन भोसले, जिला संगठक सुलभा उबाले, गुटनेता राहुल कलाटे, पूर्व शहरप्रमुख योगेश बाबर, उपशहरप्रमुख नेताजी काशिद, साधना काशिद, रावसाहेब थोरात, सचिन सानप, युवराज कोकाटे, संजय गाढवे, सुमंत तांबे, हरिभाऊ लोकरे, अनंत मते, सूर्यकांत देशमुख, अशोक गायकवाड, विजय शिवपुजे, गणेश अवचिते, रमेश सांगडे, मोहन डोले आदि उपस्थित थे।