स्वारगेट पर गन पॉइंट पर लूट का मामला:  पुणे पुलिस ने किया पांच आरोपियों को गिरफ्तार

    पुणे: पुणे (Pune) के स्वारगेट (Swargate) के पास शंकर शेठ रोड़ पर एक स्वर्ण व्यापारी के कर्मचारी से बंदूक की नोक (Gun Point) पर नकदी (Cash) लूटने के आरोप में पुणे सिटी पुलिस (Pune City Police) ने एक राज्यीय गिरोह का पर्दाफाश कर गिरोह के पांच आरोपियों को गिरफ्तार (Arrested) किया है। मामले में स्वारगेट पुलिस ने 15 मार्च को प्राथमिकी दर्ज़ की थी। पुलिस ने आरोपियों की पहचान शरीफ शेख (54), विपिन तिवारी (35), भूपेंद्र राय (30), कपिल यादव (29), शैलेंद्र राय (30), मधुरम सोनी (27) के रूप में की है।

    पुलिस ने कहा कि जौहरी ने अपने कर्मचारी शंकर भालेराव को कुछ नकद दिए थे और उसे सोना खरीदने के लिए पुणे जाने के लिए कहा था। भालेराव 7 मार्च की तड़के एक निजी बस से नांदेड़ से पुणे के लिए रवाना हुआ। शंकरशेठ रोड़ पर बस से उतरने के तुरंत बाद लुटेरे भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के अधिकारी होने का नाटक करते हुए उनके पास पहुंचे। 

    बन्दूक तान किया अपहरण

    आरोपियों में से एक द्वारकादास तिवारी ने कथित तौर पर भालेराव पर बंदूक तान दी और चार पहिया वाहन में उसका अपहरण कर लिया। इसके बाद लुटेरों ने भालेराव को एक कपड़े से बांध दिया और उसके पैरों और हाथों को टेप से बांधने से पहले उससे लगभग 17.6 लाख रुपए की नकदी छीन ली। राजगुरु नगर इलाके में लुटेरों ने भालेराव को चौपहिया वाहन से बाहर फेंक दिया और मौके से फरार हो गए। बाद में भालेराव ने जौहरी से संपर्क किया और घटना के बारे में बताया।