ठाणे सायबर सेल में दर्ज हुए सबसे अधिक फर्जी फेसबुक एकाउंट के मामले

ठाणे. सायबर सेल (Cyber ​​cell) के पास पिछले दो सालों में फेसबुक (Facebook) के जरिये दोस्ती कर गिफ्ट भेजने का झांसा देकर ठगी (Cheating) करने की घटना अधिक रही।

इसके अलावा फर्जी फेसबुक एकाउंट (Fake facebook account) बनाने, फेसबुक पर अश्लील कमेंट करने, अश्लील वीडियो, फोटो अपलोड करने, फोटो अपलोड करने की धमकी देकर रुपयों की मांग से जुड़े मामले भी आते रहे हैं।इससे ऐसा कहा जा सकता है कि ठाणे सायबर सेल (Thane Cyber ​​cell) के पास जो भी बड़ी संख्या में अपराध दर्ज हुए हैं। इन सब में फेसबुक से जुड़े मामले अधिक हैं।  

डीसीपी लक्ष्मीकांत पाटिल (DCP Laxmikant Patil) के अनुसार पिछले साल सायबर सेल में 60 मामले दर्ज हुए थे, जिसमे से 17 मामलों को सुलझाकर 18 लोगों की धरपकड़ हुई थी। इस वर्ष जनवरी से नवंबर के दौरान 46 मामले दर्ज हुए हैं और उसमे से नौ मामलों की गुत्थी सुलझी और 7 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। जनवरी में 6, फरवरी में 5, मार्च में 3, अप्रैल में 4, मई में 6, जून में 1, जुलाई में 1, सितंबर में 5, अक्टूबर में 9 और नवंबर में 6 मामले दर्ज हुए हैं। अगस्त माह में एक भी मामला दर्ज नहीं हुआ है। 

जितेंद्र आव्हाड के नाम से भी बना फर्जी फेसबुक एकाउंट 

गृह निर्माण राज्यमंत्री जितेंद्र आव्हाड (Jitendra Awhad) के नाम से फर्जी फेसबुक एकाउंट (Fake facebook account) बनाने वाले 28 वर्षीय सुनील रायभान पवार उर्फ़ सुनील राजे पवार को पिछले दिनों औरंगाबाद से गिरफ्तार किया। आरोपी ने आव्हाड तथा उनके परिवार के सदस्यों की फोटो को लगाया था और उसके जरिये गाली गलौज तथा अश्लील भाषा वाले सन्देश को प्रसारित किया था। जुलाई माह में एक मृत बैंक अधिकारी का फर्जी फेसबुक एकाउंट बनाकर अज्ञात धोखेबाज द्वारा लोगों से ऑनलाइन रुपये एठने की बात सामने आयी थी।