Onion of Nafed is coming sprouted, wholesale price of Rs 3 to 10 kg

    – राजीत यादव

    नवी मुंबई : विगत कुछ दिनों से वाशी स्थित एपीएमसी (APMC) की आलू-प्याज की मंडी में नाफेड (NAFED) द्वारा अंकुरित प्याज (Sprouted Onions) भेजा जा रहा है। जिसकी वजह से इसे खरीददार (Buyers) नहीं मिल रहे हैं। इसी वजह से थोक में इस प्याज (Onion) को न्यूनतम (Minimum) 3 रुपए और अधिकतम (Maximum) 10 रुपए किलो का दाम मिल रहा है। इसी तरह मंडी (Market) में आने वाले नए प्याज में गीलापन पाया जा रहा है। जिसकी वजह से थोक में इसे न्यूनतम 1 रुपए और अधिकतम 25 रुपए किलो का दाम मिल रहा है।

    एपीएमसी की आलू-प्याज की मंडी में थोक में कारोबार कर रहे मनोहर तोतलानी के अनुसार गुरुवार को मंडी में 21 हजार 489 बोरी प्याज की आवक हुई। तोतलानी ने बताया कि नाफेड द्वारा मंडी में पुराना प्याज भेजा जा रहा है, वह अंकुरित हो गया है। जिसके चलते इसे खरीदने से ग्राहक कतरा रहे हैं। परिणाम स्वरूप इसके दाम में भारी गिरावट आई है।

    पुराने सूखे प्याज को अच्छा दाम मिल रहा

    तोतलानी ने enavabharat.com को बताया कि जहां एक ओर नाफेड का अंकुरित प्याज आ रहा है, वहीं दूसरी ओर मंडी में जो नया प्याज आ रहा है, उनमें से अधिकांश प्याज गीला निकल रहा है, जिसे ग्राहक खरीदना पसंद नहीं कर रहे है। इन दोनों कारणों से नया और पुराना प्याज को अच्छा दाम मिल रहा है। जहां पुराना सुखा प्याज 30 रुपए किलो बिक रहा है। वहीं नया सुखा प्याज 25 रुपए किलो बेचा जा रहा है।

    आलू और लहसुन भी हुआ सस्ता

    प्याज की तरह ही मंडी में आलू और लहसुन के दाम में भी भारी गिरावट आई है। गुरुवार को मंडी में 23 हजार 989 बोरी आलू की आवक हुई, जिसे थोक में 5 से 12 रुपए किलो का दाम मिला। जबकि वेफर्स बनाने के काम में आने वाले आलू को थोक में 21 से 24 रुपए किलो बेचा गया। गुरुवार को मंडी में 4 हजार 258 बोरी लहसुन की आवक हुई। जिसे थोक में 15 से 80 रुपए किलो का दाम मिला। गुरुवार को देसी और गुजरात का लहसुन 15 से 50 रुपए और ऊटी के लहसुन को 20 से 80 रुपए किलो बेचा गया। जबकि लहसुन की कली को 10 से 35 रुपए किलो का दाम मिला।