nala safai bhiwandi

    भिवंडी: मानसून (Monsoon) विभाग द्वारा 27 मई से ही बारिश (Rain) का आगाज होने की आशंका व्यक्त किए जाने के बावजूद भिवंडी महानगरपालिका (Bhiwandi Municipal Corporation) द्वारा नाला सफाई (Drain Cleaning) कार्य में कोई भी तेजी नहीं दिखाई पड़ रही है। महानगरपालिका की हद्द में 5 प्रभागों की सीमा में सफाई ठेकेदारों द्वारा बेहद धीमी गति से नाला सफाई कार्य किया जा रहा है। नागरिकों का कहना है कि अगर नाला सफाई की गति ऐसे ही धीमी रही तो मानसून के पूर्व नाला सफाई कार्य पूर्ण होने के आसार बेहद कम हैं। बरसात के दौरान शहरवासियों को जलजमाव की भारी दिक्कत झेलनी पड़ सकती है।

    गौरतलब है कि भिवंडी महानगरपालिका कमिश्नर सुधाकर देशमुख ने नाला सफाई ठेकेदारों को 30 मई तक नाला सफाई कार्य पूर्ण किए जाने का अल्टीमेटम दिया गया है। महानगरपालिका क्षेत्र अंतर्गत 5 प्रभागों की सीमा में करीब 92 छोटे बड़े नाले हैं, जिनकी सफाई ठेकेदारों द्वारा की जाना शुरू है। महानगरपालिका प्रशासन द्वारा 5 प्रभागों में स्थित नालों की सफाई के लिए करीब डेढ़ करोड़ रुपए का ठेका ठेकेदारों को दिया गया है। नाला सफाई कार्य बेहद धीमी गति से होने की वजह से बरसात के पूर्व नाला सफाई पूर्ण होने की चिंता शहरवासियों को सताने लगी है। 

    इन इलाकों में नहीं शुरु हुई नाला की सफाई

    भिवंडी महानगरपालिका क्षेत्र अंतर्गत प्रमुख बड़ा नाला मेट्रो होटल के सामने, भंडारी कम्पाउंड, कमला होटल, नारपोली नाका सहित अन्य कई पर प्रमुख जगहों पर अभी तक ठेकेदारों द्वारा नाला सफाई शुरू नहीं किए जाने से नाला सफाई की कार्यप्रणाली पर प्रश्न चिन्ह लग गया है। क्षेत्रीय नागरिकों का कहना है कि नाला सफाई कार्य अत्यंत धीमी गति से चल रहा है। बरसात के पूर्व कार्य कदापि नहीं होगा। प्रति वर्ष की भांति इस वर्ष भी नाला सफाई ठीक तरीके से नहीं होने से कई जगहों पर जलजमाव की तकलीफ का सामना करना पड़ सकता है।

    ठेकेदारों की मनमर्जी से हो रहा कार्य 

    शहरवासियों का कहना है कि नाला सफाई कार्य में जुटे ठेकेदार प्रतिवर्ष महानगरपालिका की डेडलाइन का उल्लंघन करते हैं। नाला सफाई कार्य बेहद धीमी गति से अंजाम देकर बरसात का इंतजार करते हैं। भारी बारिश होने पर नालों में रुका हुआ कचरा पानी के बहाव के साथ बह जाता है और ठेकेदार मनमाफिक बिल बना कर महानगरपालिका के अधिकारियों को खुश कर भुगतान प्राप्त कर लेते हैं। भिवंडी में वर्षों से नाला सफाई कार्यो में हमेशा  भ्रष्टाचार होना आम बात है। नाला सफाई ठेकेदार मनमानी तरीके से सफाई कार्यो को अंजाम देकर आधा अधूरा कार्य कर महानगरपालिका का लाखों रुपया आसानी से हड़प लेते हैं। बरसात के पूर्व नाला सफाई ठीक तरीके से नहीं किए जाने की वजह से शहर में कई जगहों पर जलजमाव होता है जिससे लोग भारी दिक्कत उठाते हैं।

    नाला सफाई कार्य शुरू है

    उक्त संदर्भ में महानगरपालिका के स्वच्छता अधिकारी सोनावणे का कहना है कि नाला सफाई कार्य शुरू है। नाला सफाई ठेकेदारों को बरसात के पूर्व कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए गए हैं। स्वच्छता विभाग नाला सफाई कार्यों की मॉनिटरिंग कर रहा है।