File Photo
File Photo

  • प्रवृत्त करने का वीडियो किया वायरल

यवतमाल. स्थानीय जगदंबा कालेज आफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नालाजी के एक सहायक प्रोफेसर मोहम्मद वसीम अब्दुल कादर ने शनिवार को दोपहर कालेज में ही रस्सी का फंदा लगाकर आत्महत्या का प्रयास किया. सोशल मीडिया पर लाइव वीडियो वायरल होने से पुलिस प्रशासन तथा कालेज के अन्य प्रोफेसरों ने उसे बचा लिया. प्रोफेसर ने कालेज के सचिव शितल वातिले तथा प्रिंसिपल डा. हेमंत बारडकर पर आत्महत्या के लिए प्रवृत्त करने का आरोप वीडियो में लगाया है. 25 दिसंबर को अवकाश का दिन होने से कालेज से शो-काज नोटिस भेजा गया.

उपरोक्त घटनाक्रम को लेकर कालेज की सचिव डा. शितल वातिले ने कहा कि 9 महीनों से कालेज बंद है. कालेज में एडमिशन प्रोसेस ऑनलाइन शुरू है. पंद्रह दिनों से कालेज शुरू हुआ है. विद्यार्थियों के लिए कालेज अभी भी बंद है. एडमिशन प्रक्रिया के संदर्भ में सरकार के निर्देश के अनुसार सभी स्टाफ को कालेज में बुलाया गया है.

30 दिसंबर तक परीक्षाएं निपटाने की वजह से शनिवार, रविवार को कालेज के कर्मियों को उपस्थित रहने कहा. मानसिक तनाव की वजह से यह कदम उठाने की बात मुझसे कही. प्रिंसिपल हेमंत बारडकर ने कहा कि आरोप में कोई सत्यता नहीं है. 25 दिसंबर को प्रोफेसर दोपहर 1.30 बजे तक कालेज में उपस्थित थे. नियमानुसार अनुमति न लेते हुए कालेज से डेढ़ बजे निकल गए. किसी को बिना बताए जाने के बाद उन्हें शो-काज नोटिस दिया गया. वायरल वीडियो में किए गए आरोप से हमारी बदनामी करने का प्रयास है.

जांच के बाद होगा मामला दर्ज

शनिवार को जगदंबा कालेज आफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नालाजी में एक प्रोफेसर ने आत्महत्या करने का प्रयास किया है. इस मामले में जांच करके अपराध दर्ज किया जाएगा. 

-कड़ेवार, एपीआई-ग्रामीण पुलिस थाना.