yogi-akhilesh
File Pic

    लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) सरकार के दो पूर्व मंत्रियों समेत कई प्रमुख नेताओं ने रविवार को यहां भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राज्य मुख्यालय में पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने नेताओं को पार्टी की सदस्यता दिलाई और दावा किया कि उनके आने से संगठन और मजबूत होगा।

    भाजपा मुख्यालय में रविवार को उत्तर प्रदेश सरकार के पूर्व मंत्री एवं सुलतानपुर जिले में तीन बार विधायक रहे जयनारायण तिवारी और गाजीपुर के पूर्व विधायक एवं अखिलेश यादव के नेतृत्व वाली समाजवादी पार्टी सरकार में मंत्री रहे विजय मिश्रा, बसपा के वरिष्ठ नेता रहे मनोज दिवाकर, जगदेव कुरील, सेवानिवृत्त आईएएस अशोक कुमार सिंह, अधिवक्ता राम शिरोमणि शुक्ल, उन्नाव के पूर्व बसपा प्रत्याशी धर्मेंद्र पांडेय, अजीतमल विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक मदन गौतम, अयोध्या के कुंवर अभिमन्यु प्रताप सिंह और लखीमपुर के अखिलेश वर्मा ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।

    सदस्यता लेने वाले नेताओं ने कहा कि वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ की नीति से प्रभावित होकर भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर रहे हैं। जयनारायण तिवारी उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री श्रीपति मिश्र के प्रतिनिधि और योजना आयोग के उपाध्यक्ष भी रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 16 नवंबर को सुलतानपुर जिले में पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के उद्घाटन समारोह में पूर्व मुख्‍यमंत्री श्रीपति मिश्र को स्मरण करते हुए बिना नाम लिए कांग्रेस पार्टी पर आरोप लगाया कि ‘परिवार’ के दरबारियों ने श्रीपति मिश्र को अपमानित किया।