yogi

    अयोध्या. एक बड़ी खबर के अनुसार इस बार अयोध्या की दिपावली (Diwali In Ayodhya) बड़ी ही खास होगी। जी हाँ, आपको बता दें कि इस बार उत्तर प्रदेश (UP) की योगी आदित्यनाथ (Yogi Adhityanath) सरकार ने 3 नंवबर को पहली बार अयोध्या में 500 ड्रोन की मदद से एक बेहतरीन ‘एरियल ड्रोन शो’ (Aerial Drone Show) की बड़ी योजना बनाई है। इस बाबत योगी सरकार ने टेंडर भी आमंत्रित किए हैं। 

     टोक्यो ओलंपिक्स  जैसा  हवाई शो

    बता दें कि इस बार अयोध्या में 10-12 मिनट के शानदार हवाई शो के जरिए आयोजन को ‘और भी बड़ा और भव्य’ बनाने का विचार किया गया है। पता हो कि इस तरह का एक प्रदर्शन टोक्यो ओलंपिक्स में भी देखा गया था, जहां इंटेल की तरफ से 1824 ड्रोन हवा में छोड़े गए थे।

    अबकी बार अयोध्या में योगी सरकार चाहती है कि भगवान राम के अयोध्या लौटने की कहानी और एनिमेशन और स्टिम्युलेशन के जरिए रामायण को दिखाने के लिए ड्रोन शो एक एजेंसी करे। राज्य सरकार के इस बड़े प्रस्ताव में बताया गया है, ‘एजेंसी से नई तकनीक और अंतरराष्ट्रीय मानकों के साथ शो दिखाने की उम्मीद की जाती है।’

    इसमें पहले से ही  LED प्राप्त क्वाडकॉप्टर्स या मल्टीरॉटर्स का उपयोग किया जाएगा, जो 400 मीटर की ऊंचाई तक 12 मीटर प्रति सेंकड की रफ्तार से उड़ सकते हैं। इसके साथ ही कम से कम अंतराल में विजुअल्स की सही और प्रभावी मॉर्फिंग के लिए ड्रोन की रफ्तार की भी गणना होगी। साथ ही उनकी लैंडिंग और टेक-ऑफ के लिए क्षेत्र में बड़े बड़े बैरिकेड्स लगाए जाएंगे।

    इंटेल द्वारा होगा भव्य कार्यक्रम, लेगा तगड़ी फीस 

    इस बाबत इंटेल की वेबसाइट के अनुसार, टोक्यो ओलंपिक्स के आधिकारिक ड्रोन पार्टनर रहे इंटेल ने कोचेला से लेकर सुपर बोल तक में शानदार ड्रोन शो किए हैं। उनके पास इंजीनियर्स, एनीमेटर्स और फ्लाइट क्रू की एक बेहतरीन और आला टीम है, जो शो को शानदार तरीके से ये सब तैयार करती है और उसे फ़साना से हकीकत बनाती है। दिलचस्प बात ये है कि इंटेल 500 ड्रोन शो के लिए करीब 3 लाख डॉलर यानि (2।2 करोड़) रुपये जैसी बड़ी फीस भी लेती है।

    क्या होगा ख़ास 

    इस अनोखे और बेहतरीन एरियल ड्रोन शो के साथ इस साल राम की पैड़ी के भवनों पर शानदार 3-डी होलोग्राफिक शो, 3-डी प्रोजेक्शन मैपिंग और लेजर शो भी होगा। वहीं एरियल ड्रोन समेत यह रंगारंग कार्यक्रम कुल 35 मिनट का होगा, जिसमें 8 मिनट का 3-डी हॉलोग्राफिक शो और 10 मिनट का 3-डी प्रोजेक्शन मैपिंग शो भी होगा। कार्यक्रम से पहले इन सभी आयोजनों के ट्रायल भी किए जाएंगे। तो देखा जाए तो इस बार अयोध्या की दिपावली और बड़ी, प्रकाशमान और व्यापक होगी।