Google
File Pic

    नई दिल्ली.  भारत (India) के लिए आ रही एक बड़ी खबर के अनुसार अब दिग्गज सर्च इंजन Google ने संस्कृत सहित आठ भारतीय भाषाओं को अपने गूगल ट्रांसलेट (Google Translate) में जोड़ा है। पता हो कि गूगल लगातार अपने ऑनलाइन ट्रांसलेशन प्लेटफॉर्म पर कई क्षेत्रीय भाषाओं को जोड़ रही है। इस बाबत गूगल रिसर्च के सीनियर सॉफ्टवेयर इंजीनियर आइजैक कैसवेल ने मीडिया को बताया कि, “संस्कृत गूगल ट्रांसलेट में नंबर वन और सबसे ज्यादा रिक्वेस्ट की जाने वाली भाषा है और अब हम इसे आखिरकार जोड़ रहे हैं। हम पूर्वोत्तर भारत से पहली बार भाषाओं को जोड़ रहे हैं।”

    वहीं संस्कृत के अलावा, गूगल ट्रांसलेट के लेटेस्ट प्रोग्राम में अब अन्य भारतीय भाषाएं जैसे असमिया, भोजपुरी, डोगरी, कोंकणी, मैथिली, मिजो और मेइतिलोन (मणिपुरी) हैं। इसी के साथ ही अब गूगल ट्रांसलेट पर उपलब्ध भारतीय भाषाओं की कुल संख्या को 19 हो गई है। यह घोषणा बुधवार की देर रात शुरू हुए वार्षिक Google सम्मेलन I/O में की गई।

    वहीं गूगल के अनुसार अपडेट में जोड़ी गईं सभी भाषाओं को केवल टेक्स्ट ट्रांसलेशन फीचर में ही सपोर्ट किया जाएगा, लेकिन कंपनी जल्द ही वॉयस टू टेक्स्ट, कैमरा मोड और अन्य फीचर्स को रोल आउट करने पर भी अब काम करेगी। गौरतलब है कि अब Google भारतीय भाषाओं के ट्रांसलेशन के संबंध में कमियों को दूर करने के लिए भी रिसर्च और काम कर रहा है। 

    क्या है गूगल ट्रांसलेट

    • आपको बता दें कि, गूगल ट्रांसलेट एक Online Language Translator Tool है जिसे सन 2004 इस्वी में Google कंपनी द्वारा बनाया गया था परन्तु यह सन 2006 में पूरी तरह लोगो के बिच आया जो किसी भी एक भाषा को दुसरे भाषा में अनुवाद करने के लिए पूरी तरह सक्षम है।
    • वैसे तो अब तक गूगल ट्रांसलेट में कुल 105 भाषाओँ को जोड़ा गया है जिनकी मदद से आप एक भाषा को दुसरे भाषा में ट्रांसलेट कर सकते है।  इसके साथ ही  यह Dictionary (शब्दकोष) के लिए भी कार्य करता है आप किसी भी शब्द का अनुवाद दुसरे भाषा में कर सकते हैं तथा उसकी मीनिंग निकाल सकते है। आज के अनेकों युवा छात्र अपने Studies के लिए काफी हद तक गूगल ट्रांसलेट टूल का उपयोग कर रहे है।

    क्या है गूगल ट्रांसलेट के फायदे

    • अगर आपकी English कमजोर है और आपको WhatsApp या Facebook पर कोई व्यक्ति English में मेसेज करता है तो आप उसे Copy/Past की मदद से गूगल ट्रांसलेट के जरिये अनुवाद करके समझ सकते है और उसका जबाब भी बदले में English में दे सकते है।
    • उसी प्रकार यदि कोई आपको Telugu, China, Punjabi या अन्य भाषा में सन्देश भेजता है जिस भाषा को आप जानते ही नहीं तो गूगल ट्रांसलेट की मदद से आप उसे अनुवाद करके समझ भी सकते है।
    • युवा छात्र अपनी पढ़ाई के दौरान किसी अंग्रेजी शब्द का मीनिंग गूगल ट्रांसलेट की मदद से आराम से खोज सकते है।

    कुल मिलकर देखा जाए तो गूगल ट्रांसलेट ने अनुवाद में काफी ज्यादा मदद की है।  वैसे आज भी इसकी सटीकता को लेकर तमाम तरह के सवाल उठते रहे हैं।  लेकिन यह भी एक सच्चाई ये है कि आज भी हर दिन लाखों-करोडों की संख्या में लोग इस टूल का इस्तेमाल करते हैं।