नन्हे-मुन्ने बच्चों ने अपने हाथों से किया वृक्षारोपण

ठाणे. रूद्र प्रतिष्ठान और संस्कार एजुकेशनल एंड चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा ‘वृक्ष लगाओ, जीवन बचाओ’ पर सतत कार्यरत है. रविवार को संस्था की तरफ 105वां वृक्षारोपण कार्यक्रम बच्चों के लिए आयोजित किया गया था. इस दौरान छोटे-छोटे बच्चों ने अपने नन्ने-मुन्ने हाथों से पेड़ और पौधे लगाकर युवाओं और बुजुर्गों को वृक्षारोपण करने के लिए प्रोत्साहित करते नजर आए. 

संस्था के अध्यक्ष विनय कुमार सिंह ने कहा कि समाज में आप अच्छे कार्य करते रहें. आने वाली पीढ़ी इसका अनुकरण जरूर करेगी. हमारी टीम को शिक्षकों, पत्रकारों, विद्यार्थियों अधिकारियों का सहयोग मिल रहा है. जो वृक्षारोपण अभियान में शामिल नहीं हो पा रहे. वे सब भी जाओ जहां वृक्षारोपण वहां वहां के आधार पर पौधरोपण कर रहे हैं. 

2 जगहों पर आयोजित किया गया था कार्यक्रम 

इस अभियान में जुड़ने के लिए सभी उन्होंने आभार भी माना और बताया कि यह कार्यक्रम दो जगहों पर आयोजित किया गया था. एक ठाणे के येउर परिसर में और दूसरा उत्तर प्रदेश के फत्तेपुर गांव में आयोजित किया गया. येउर में आर्यन सिंह, अभय सिंह, रणवीर सिंह, अंजलि ठाकुर, आहान ठाकुर आदि सहित अन्य बच्चों ने मोलची औषधि का पेड़ लगाएं, जबकि उत्तर प्रदेश के फत्तेपुर में श्रेयश मिश्रा, कृष्णा मिश्रा, सिया शुक्ला आदि बच्चों ने मिलकर आम के पौधे भी लगाएं और इसके बाद गौमाता रोटियां भी खिलाई. इनके साथ विनय कुमार सिंह, रंजीत सिंह, मनीष सिंह, गोपाल ठाकुर, प्रशांत दलाई, विशाल टेमकर, मनीष सिंह, विशाल मौर्या, सुमित दुबे और रूद्र और संस्कार परिवार के अन्य सदस्यों ने भी वृक्षारोपण अभियान में अपना श्रमदान दिया.