wifi

    ठाणे. किसी से मुफ्त (Free) में वाईफाई (Wi-Fi) लेकर इंटरनेट (Internet) चलाना आम लोगों को महंगा(Expensive) पड़ सकता है। वाईफाई का मालिक अपने वाईफाई को माध्यम बनाकर इंटरनेट इस्तेमाल करनेवाले के मोबाइल फोन (Mobile Phone) से सीक्रेट जानकारी इकठ्ठा कर उसके बैंक एकाउंट (Bank Account) से पैसे चुराने और सीक्रेट फोटो को चुराकर ब्लैकमेल जैसी घटनाओं को अंजाम दे सकता है। 

    गौरतलब है कि लोग अपने मित्र या अंजान व्यक्ति के मोबाइल का हॉटस्पॉट और किसी अंजान व्यक्ति के वाईफाई का इस्तेमाल कर इंटरनेट इस्तेमाल करते है। वाईफाई से जुड़ने के बाद वाईफाई के सिस्टम में इस्तेमाल करनेवाले व्यक्ति कुछ जानकारी रह जाती है। सिस्टम में शेष रह गई उसी जानकारी का इस्तेमाल कर हैकर इंटरनेट इस्तेमाल करनेवाले व्यक्ति की पर्सनल फोटो और बैंक की जानकारी लेकर ब्लैकमेल कर गलत घटना को अंजाम दे सकता है। 

    अंजान व्यक्ति का वाईफाई का इस्तेमाल ना करें

    ठाणे साइबर लैब द्वारा मिली जानकारी के आधार पर पिछले 3 महीनों में इस प्रकार की 4 घटना को अंजाम दिया गया है जिसमें से एक भी आरोपी को पुलिस गिरफ्तार नहीं कर पायी है। ठाणे साइबर लैब के एसीपी सरदार पाटील ने बताया कि ऐसी घटनाओं से बचने के लिए किसी भी अंजान व्यक्ति का वाईफाई का इस्तेमाल ना करें और अपने मोबाइल में मौजूद अपडेट को निरंतर पूर्ण करते रहें।