पहाड़ों की गोद में बसा खूबसूरत ऊटी शहर

नीलगिरी कि पहाड़ियों में बसा ऊटी शहर, दर्शनीय स्थल, दूर तक फैले घास के मैदान, और अपने ठंडे तथा शांत मौसम के लिए जाना जाता है। यह शहर दक्षिण भारत के तमिलनाडु राज्य में स्थित है। जो एक खूबसूरत पर्यटन स्थल भी है। ऊटी का पूरा नाम उदगमंडलम (Udagamandalam) है। इसे पहाड़ों की रानी (Queen of Hills) भी कहा जाता है। तो आइए जानते हैं इसके पर्यटन स्थलों के बारे में…

ऊटी झील-

1825 में निर्मित यह झील नीलगिरी की पहाड़ियों के बीच से गुजरती है, जिसकी लंबाई 2.5 किलोमीटर है। ऊटी झील पैडल बोटिंग, पिकनिक, ओर घूमने के लिए बहुत सुंदर जगह है। ऊटी झील के आस – पास कुछ दुकानें भी है, जहां से आप अपने ज़रूरत का सामान खरीद सकते हैं।  

मुरुगन मंदिर-


एल्क हिल (Elk Hill)पर स्थित मरुगन मंदिर एक विशाल और भव्य मंदिर है। यह मंदिर भगवान मुरुगन को समर्पित है। तमिलनाडु में स्थित मारुगन मंदिर अपने शानदार वास्तुकला के लिए जाना जाता है। यहां भक्तों द्वारा किया जाने वाला कावड़ी अट्टम (Kavadi Attam) नृत्य एक मुख्य आकर्षण है।   

डोड्डाबेट्टा चोटी-

दक्षिण भारत का सबसे ऊंचा स्थान डोड्डाबेट्टा चोटी है, जो 8,606 फीट की ऊंचाई पर है। यह एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है। शिखर पर एक दूरबीन का घर (telescope house) है, जिसमें दो दूरबीन हैं जिससे घाटी के आसपास की खूबसूरती का आनंद ले सकते हैं। आप यहां से नीलगिरी के लुभावने दृश्य को देख सकते हैं।

प्यकारा जलप्रपात-

प्यकारा जलप्रपात देवदार के वृक्षों (pine trees) से घिरा हुए है। जो इस जलप्रपात की खूबसूरती में चार-चाँद लगते हैं। इस झील में स्पीडबोट सवारी का आनंद लेने के साथ चीड़ के पेड़ों के बीच लंबी सैर कर सकते हैं। यह एक पिकनिक स्पॉट के रूप में भी जाना जाता है।