महिला का पुलिस पर आरोप, मास्क नहीं पहनने पर पुलिस ने बेटे के हाथ-पैरों में ठोंकी कीलें

    लखनऊ: उत्तर प्रदेश बरेली ने बड़ी हैरान करने वाली ख़बर सामने आई है। जहां एक महिला ने पुलिस पर मास्क नहीं पहनने पर बेटे के हाथ-पैर में कील ठोकने आरोप लगाया है। इसी के साथ उन्होंने पुलिस पर धमकाने का आरोप भी लगाया है। वहीं पुलिस ने खुद को झूठा बताया है। 

    मिली जानकारी के अनुसार, जिले के नवादा में रहने वाली महिला का नाम जोगी है। उसने पुलिस पर आरोप लगते हुए कहा कि, मास्क नहीं लगाने को लेकर तीन पुलिस वाले उनके घर पर आये और उनके बेटे को उठाकर ले गए। जब वह लोग पुलिस थाने पहुंचे तो बताया गया की उसे कहीं और ले जाया गया है। जान उसकी खोज की तो वह गंभीर हालात में मिला, उसके हाथों  पैरों में कील ठोकी हुई थी।”

    शिकायत करने पर धमकाया गया 

    महिला ने पुलिस पर धमकाने का भी आरोप लगाया है। महिला के मुताबिक, बेटे के साथ हुई बर्बरता के खिलाफ जब वह थाने में शिकायत करने पहुंची तो, वहां मौजूद पुलिस वालों ने उसे जेल में डालने की धमकी दी। जिसके बाद महिला ने न्याय के लिए जिला एसपी से गुहार लगाई है। 

    युवक पुराना मुजरिम 

    खुद  आरोपों पर पुलिस ने सफाई दी है। एसएसपी रोहित सजवाण ने कहा कि, युवक पुलिस का पुराण अपराधी है। उसपर कई गंभीर मामले दर्ज है। वह बचने के लिए ऐसे आरोप कर रहा है।” उन्होंने कहा कि, इस मामले पर हमने जांच की है, जिसमें पाया की युवक द्वारा लगाए सारे आरोप निराधार है।