yogi

    एटा/लखनऊ: उत्तर प्रदेश में 2022 विधानसभा चुनाव किसके नेतृत्व में लड़ा जाएगा इसे लेकर सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी में अलग-अलग दावे किये जा रहे हैं। शुक्रवार को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने एटा में दावा किया कि पार्टी अगला विधानसभा चुनाव मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में लड़ेगी, वहीं उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने बुधवार को बरेली में कहा था कि राज्य का आगामी विधानसभा चुनाव किसके नेतृत्व में लड़ा जाएगा, यह पार्टी संसदीय बोर्ड तय करेगा। 

    एटा में भाजपा कार्यालय पर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने शुक्रवार को कहा, ‘‘प्रदेश में भ्रष्टाचार गुंडागर्दी खत्म हो गई है, विकास हो रहा है और हम ऐसे कर्मठ, योग्य, ईमानदार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नाथ के नेतृत्व में 2022 का चुनाव लड़ेंगे।” सिंह एटा में अमापुर से भाजपा विधायक देवेंद्र प्रताप सिंह के लिए आयोजित शोकसभा में शामिल हुए और पार्टी कार्यालय पर विधायकों और संगठन के प्रमुख लोगों के साथ मंथन किया। 

    इससे पहले बुधवार को बरेली में उपमुख्यमंत्री मौर्य ने पत्रकारों से कहा था, ”भाजपा प्रदेश का अगला विधानसभा चुनाव किसके नेतृत्व में लड़ेगी, इसका फैसला भाजपा का सामूहिक नेतृत्व और संसदीय बोर्ड करेगा।” उनसे पूछा गया था कि क्या प्रदेश का अगला विधानसभा चुनाव उनके नेतृत्व में लड़ा जाएगा। मौर्य ने शुक्रवार को जनता का भरोसा नहीं टूटने देने का दावा किया। उन्होंने ट्वीट किया, ” जनता का भरोसा भाजपा पर टूटने नहीं देंगे 2022 में 2017 दोहराएंगे।” 

    गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में 2017 में भारतीय जनता पार्टी ने विधानसभा का चुनाव केशव प्रसाद मौर्य की अगुवाई में लड़ा और तब भारतीय जनता पार्टी को 312 और सहयोगी अपना दल (एस) को नौ तथा सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी को चार सीटें मिली थीं। (एजेंसी)