बोगस खाद बिक्री का पर्दाफाश, 3.42 लाख का माल जब्त

  • कृषि विभाग की कार्रवाई, संचालक के खिलाफ एफआईआर
  • दो कंपनियो से पहुंचा था माल

हिंगनघाट. किसानो को फर्जी कंपनी का रासायनिक खाद बिक्री करने की खुपिया जानकारी मिलने पर जिला कृषि उडण दस्ते ने नांदगांव मार्ग पर स्थित हरिओम एग्रो ट्रेडर्स में छापामार कार्रवाई की. इसमें बोगस खाद की 317 बैग जब्त की गई. 15.85 मे. टन इस खाद की कींमत 3 लाख 42 हजार 660 रुपए बताई गई.

प्राप्त जानकारी के अनुसार जय किसान फर्टीलायजर एण्ड केमिकल, मुंबई इस कंपनी ने 18:18:10 तथा व्यंकटेश कृषि भंडार, नांदेड इस कंपनी ने 10:26:26 यह रासायनिक खाद फर्जी रुप से तैयार किया. उक्त कंपनियो को किसी प्रकार की सरकारी मान्यता नहीं होने की जानकारी है. इन कंपनियों को कंपनी परवाना, खाद निर्मिति का परवाना राज्य कृषि विभाग द्वारा नहीं दिया गया है़.बावजुद इसके धडल्ले से यह कंपनिया फर्जी खाद किसानों को बेच रही है. यह निर्देश में आते ही जिला गुणवत्ता निरीक्षक पी.ए. घायतिडक, तहसील कृषि अधिकारी आरती गायकवाड, पंस कृषि अधिकारी एम.एस. डेहनकर ने उक्त प्रतिष्ठान में छापामार कार्रवाई को अंजाम दिया. ट्रक से माल उतारते समय तथा गोदाम में रखे माल का संचय जब्त किया गया. 18:18:10 एक बैग की कींमत 1020 तथा 10:26:26 प्रति बैग 1135 है.

उक्त बोगस संचय जब्त कर स्थानीय पंस के गोदाम में रखा गया है. कार्रवाई दस्ते ने दूकान के बिल बुक, कृषि परमीट, स्टॉक रजिस्टर भी जब्त कर लिया है़ पंच के रुप में मंडल कृषि अधिकारी बन्सोडे व निलेश सुपारे की मदद ली गई. उसी प्रकार दो पुलिस कर्मियों को इस कार्रवाई में शामील किया गया था. इस प्रकरण में जिला गुणवत्ता नियंत्रक घायतिडक की शिकायत पर हिंगनघाट पुलिस ने विविध धाराओं के तहत दूकान संचालक गजानन सुभाष पुंड के खिलाफ मामला दर्ज कर आगे की जांच शुरु कर दी. वहीं दूसरी ओर कृषि दस्ते ने शहर के विविध कृषि केंद्रों को भेंट देकर खाद के बारे में जांचपडताल की. इस कार्रवाई से कृषि केंद्र चालकों में हडकम्प मच गया है.