कोरोनामुक्त रसूलाबाद गांव को सराहा

  • CM ने सरपंच सावरकर के कार्यों की ली दखल

वर्धा. रसूलाबाद में चलाएं गए अभिनव उपक्रम की बदौलत गांव पूर्णत: कोरोनामुक्त हो गया है़ इसकी मुख्यमंत्री ठाकरे ने दखल लेते हुए सरपंच राजेश सावरकर के साथ वीडियो कान्फ्रेन्सिंग के माध्यम से चर्चा करते हुए सराहना की़ इस समय सावरकर ने अभियान की जानकारी देते हुए कहा कि गांव के प्रत्येक परिवार की स्वास्थ्य जांच की गई़ इसके लिए युवाओं का स्वास्थ्य सेवा पथक नियुक्त किया गया़ गांव सैनिटाइज करने के साथ साथ दो युवा डाक्टरों के मार्गदर्शन व सहयोग से रसूलाबाद गांव कोरोनामुक्त हुआ है़ गांव में 1,035 परिवारों की जनसंख्या 3,781 है़ कोरोना की दूसरी लहर में एक व्यक्ति की मौत होने की जानकारी मिलते ही गांव में सर्वसम्मति से बाहर से आने वालों को गांवबंदी का निर्णय लिया. इस दौरान गांव के प्रत्येक व्यक्ति की स्वास्थ्य जांच की गई.

युवाओं के 50-50 के बनाए 2 गुट 

गांव के युवाओं के 50-50 ऐसे 2 गुट स्थापन किए गए़  उन्हें गांव के प्रत्येक घर जाकर कौन बीमार है इसकी जानकारी प्राप्त करने की जिम्मेदारी सौंपी गई़  इसके लिए रसूलाबाद के दो डाक्टरों का मार्गदर्शन महत्वपूर्ण रहा़  गांव की आशा, आंगनवाड़ी सेविका, ग्रामसेवक, पुलिस पाटिल तथा शिक्षकों ने जिम्मेदारी अच्छे तरिके से निभाई़  गांव में दूसरी लहर में 35 मरीज थे, जिसमें से 4 की मौत हुई, लेकिन आज गांव कोरोनामुक्त है.  

कोरोना टीकाकरण करने जनजागृति

कोरोना टीकाकरण के बारे में ग्रामीणों में संभ्रम था़  जो दूर करने के लिए जनजागृति मुहिम चलाई गई़  आज गांव में 75 फीसदी टीकाकरण पूर्ण हुआ है़  कोरोना काल में रक्तदान तथा प्लाज्मा दान करने के लिए भी प्रोत्साहित किया. इस समय मुख्यमंत्री, जिलाधिकारी, मुख्य कार्यकारी अधिकारी का आभार माना़  इस दौरान ग्रामविकास मंत्री हसन मुश्रीफ तथा औरंगाबाद से राजस्व राज्यमंत्री अब्दुल सत्तार ने मार्गदर्शन किया़  जिले के जिलाधिकारी कार्यालय से जिला परिषद मुख्य कार्यकारी अधिकारी डा़ सचिन ओंबासे, उपमुख्य कार्यकारी अधिकारी विपुल जाधव तथा सेलू तहसील के कोटंबा सरपंच रेणुका कोटंबकार भी शामिल हुई थी.