kotwal dharana

    वर्धा. पदोन्नति की मांग को लेकर जिले के कोतवालों ने 17 जुलाई से हड़ताल शुरू कर दी है़ साथ ही सोमवार को जिलाधिकारी कार्यालय परिसर में ठिया आंदोलन किया़ जिलाधिकारी के माध्यम से सरकार को भेजे गए ज्ञापन में कहा गया कि राजस्व विभाग में प्रशासन की ओर से कोतवालों की पदोन्नति होती है़ परंतु जिले में कोतवालों को पदोन्नति से वंचित रखा गया है.

    पिछले 21 वर्षों से इस मांग के लिए कोतवाल अपनी लड़ाई लड़ रहे है़ं राज्य के अन्य सभी जिलों में नियमित पदोन्नति हो रही है, फिर वर्धा जिले में क्यों नहीं, यह सवाल गुस्साए आंदोलनकारियों ने उठाया है. हमारी अधिकारिक सीट पर सीधे सेवा भरती ली गई, परंतु पदोन्नति नहीं मिली़ इसलिए जब तक हमें न्याय नहीं मिलता, तब तक जिले के सभी कोतवालों ने बेमियादी हड़ताल करने का निर्णय लिया है.

    सोमवार को महाराष्ट्र राज्य महसूल कोतवाल संगठना शाखा वर्धा के जिला संगठक स्वराज जिलठे, जिलाध्यक्ष दिनेश कोहपरे, उपाध्यक्ष उमेश वैद्य के नेतृत्व में सभी तहसीलों के अध्यक्ष व कोतवालों ने ठिया आंदोलन किया़ पश्चात जिला प्रशासन को मांगों का ज्ञापन सौंपा गया.